Top
undefined

एक सैनिक ने मॉल में अंधाधुंध फायरिंग की, 27 की मौत; सुरक्षाबलों से 17 घंटे तक चली मुठभेड़

एक सैनिक ने मॉल में अंधाधुंध फायरिंग की, 27 की मौत; सुरक्षाबलों से 17 घंटे तक चली मुठभेड़
X

बैंकॉक. थाईलैंड के उत्तर-पूर्वी शहर कोरात में शनिवार को एक सैनिक ने मॉल में घुसकर अंधाधुंध गोलीबारी की। इसमें 27 लोगों की मौत हुई। हमलावर ने मॉल में ही कुछ लोगों को बंधक बना लिया। हालांकि, स्पेशल फोर्सेज ने 17 घंटे तक चली मुठभेड़ में हत्यारे को मार गिराया। पहले ऐसी रिपोर्ट्स थीं कि हमलावर मॉल की पार्किंग के रास्ते भागने में कामयाब हो गया। हालांकि, थाईलैंड के स्वास्थ्य मंत्री ने मुठभेड़ में हमलावर के मारे जाने की पुष्टि की। थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा के मुताबिक, थोम्मा जमीन सौदे को लेकर एक विवाद की वजह से काफी परेशान था। इसी वजह से उसने इतना बड़ा हमला किया।

हमलावर ने फेसबुक लाइव दिखाई घटना

हमलावर ने फायरिंग के दौरान फेसबुक पर लाइव स्ट्रीमिंग की और सेल्फी लेकर इसे सोशल मीडिया पर पोस्ट भी किया। सेना के लेफ्टिनेंट जनरल ने कहा कि हमलावर सैनिक झगड़े के बाद अपने कमांडर की हत्या कर भागा। मॉल में अंधाधुंध फायरिंग के बाद गोली लगने से कुछ लोग गंभीर रूप से घायल हुए। हमलावर ने मॉल के अंदर कई लोगों को बंधक बना लिया। हालांकि, सरकार ने उसे रोकने के लिए स्पेशल फोर्सेज बुला ली थीं।

हमलावर ने सोशल मीडिया पर क्या लिखा?

सोशल मीडिया पर फायरिंग के दौरान हमलावर ने लोगों से अपने सरेंडर के बारे में पूछा। इससे पहले उसने अलग-अलग पोस्ट्स में पिस्तौल के साथ गोलियों की फोटो भी पोस्ट की थी। एक जगह उसने लिखा, "कोई भी मौत से नहीं बच सकता। यह उत्साहित करने वाली घटना है।" हालांकि, बाद में फेसबुक ने पेज को हटा लिया। इसमें मैसेज के तौर पर फेसबुक ने लिखा, "हमारे दिल उन सबके लिए पीड़ा में हैं, जिनके करीबियों की इस घटना में जान गई। फेसबुक पर ऐसी क्रूरता करने वालों की कोई जगह नहीं है।

हमलावर को पकड़ने के लिए पूरे शहर में नाकाबंदी

पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक, सैनिक का नाम जक्रापंथ थोम्मा है और वह 22वीं आर्मी रीजनल कमांड में सार्जेंट के पद पर तैनात है। वह एक खतरनाक स्नाइपर शूटर है। घटना के बाद इलाके में पुलिस और सेना तैनात कर दी गई। सेना के कमांडर ले. जनरल थान्या कैस्टर्न ने बताया कि हमलावर ने कोरात के सिटी सेंटर और टर्मिनल 21 शॉपिंग मॉल को निशाना बनाया। यहां गोलीबारी के दौरान उसने फेसबुक पर लाइव स्ट्रीमिंग की। हालांकि, बाद में उसके पेज को ब्लॉक कर दिया गया।

सैन्य ठिकाने से मशीन गन समेत कई हथियार चोरी किए

प्रधानमंत्री के मुताबिक, सैनिक ने झगड़े के बाद सबसे पहले सुपरवाइजर की हत्या की। फिर उसने साथियों को गोलियां मारीं। इसके बाद सैनिक ने सेना के ठिकाने से मशीन गन समेत कई हथियार चोरी कर लिए। उसने शॉपिंग मॉल के रास्ते में भी कई आम लोगों को मौत के घाट उतारा है।

Next Story
Share it