Top
undefined

भारत से जंग के लिए पाकिस्तान बढ़ा रहा ताकत, चीन-तुर्की से खरीदेगा 50 से ज्यादा युद्धपोत

भारत से जंग के लिए पाकिस्तान बढ़ा रहा ताकत, चीन-तुर्की से खरीदेगा 50 से ज्यादा युद्धपोत
X

इस्लामाबाद। पाकिस्तान अपने दोस्त चीन की मदद से भारत के साथ जंग के लिए अपनी सामरिक और युद्धक ताकत को बढ़ा रहा है।वर्तमान में पाकिस्तान हथियारों के लिए अपने दोस्त चीन और इस्लामी देशों का आका बनने की की कोशिश कर रहे तुर्की पर निर्भर है। इस बीच पाकिस्तानी नौसेना अपनी महत्वाकांक्षी आधुनिकीकरण योजना के जरए वे 50 से ज्यादा युद्धपोतों को अपने बेड़े में शामिल करने जा रही है। इसमें 20 से ज्यादा प्रमुख जंगी जहाज होंगे।

अपने विदाई समारोह में पाकिस्तान नेवी चीफ एडमिरल जफर महमूद अब्बासी ने कहा कि हम अगले कुछ वर्षों में चार चीनी फ्रिगेट्स और 2023 से 2025 के बीच में तुर्की में बने हुए मध्यम श्रेणी के कई जहाजों को शामिल करेंगे। उन्होंने कहा कि चीन के सहयोग के चल रही हेंगर पनडुब्बी परियोजना अपनी योजना के अनुसार आगे बढ़ रही है। इसस प्रोजक्ट के जरिए पाकिस्तान और चीन के लिए चार-चार पनडुब्बियों का निर्माण किया जा रहा है। कार्यक्रम के दौरान ही उन्होंने एडमिरल अमजद खान नियाजी को पाकिस्तानी नौसेना की कमान सौंपी। वे पाकिस्तानी नौसेना के 22वें चीफ बने हैं।

पाकिस्तानी नौसेना ने अपने एक बयान में कहा कि यह कार्यक्रम इस्लामाबाद के पीएनएस जफर में आयोजित किया गया। एडमिरल नियाजी 1985 में पाक नेवी के ऑपरेशन ब्रांच में कमीशन हुए थे। नियाजी ने चीन के बीजिंग यूनिवर्सिटी ऑफ़ एरोनॉटिक्स एंड एस्ट्रोनॉटिक्स से अंडरवाटर एकोस्टिक में मास्टर डिग्री हासिल की है।

फोर्ब्स की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तानी नौसेना अपनी ताकत को बढ़ाने के लिए चीनी डिजाइन पर आधारित टाइप 039 बी युआन क्लास की पनडुब्बी खरीद रही है। डीजल इलेक्ट्रिक चीन की यह पनडुब्बी पाकिस्तान की नौसैनिक ताकत में इजाफा करने में सक्षम है। जिसमें एंटी शिप क्रूज मिसाइल लगी होती हैं। यह पनडुब्बी एयर इंडिपैंडेंट प्रपल्शन सिस्टम के कारण कम आवाज पैदा करती है। जिससे इसे पानी के नीचे पता लगाना बहुत मुश्किल होता है।

Next Story
Share it