Top
undefined

ईरान ने शुरू किया स्वदेश में विकसित वैक्सीन का पहला मानव परीक्षण

ईरान ने शुरू किया स्वदेश में विकसित वैक्सीन का पहला मानव परीक्षण
X

तेहरान। ईरान में घरेलू तौर पर विकसित कोरोना वायरस के टीके (वैक्सीन) की सुरक्षा और असर का पहला अध्ययन मंगलवार को शुरू हो गया। संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित इस देश में दर्जनों लोगों को इसे लगाया जाना है। ईरान में सरकारी स्वामित्व वाले फार्मास्युटिकल संघ में शामिल शिफा फार्मेड ने टीके का विकास किया है। ईरान पश्चिम एशिया में कोविड-19 से सबसे बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

यह पहला टीका है जो मानव परीक्षण के स्तर पर पहुंचा है। राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा है कि ईरान एक और टीके के उत्पादन के लिए किसी दूसरे देश के साथ साझेदारी कर रहा है जिसका फरवरी में मनुष्यों पर परीक्षण किया जा सकता है। उन्होंने इससे ज्यादा कुछ नहीं कहा। ईरान में अब तक 12 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और करीब 55,000 लोगों की जान जा चुकी है।

पहले चरण के क्लिनिकल परीक्षण में कुल 56 प्रतिभागियों को दो सप्ताह के अंदर ईरान निर्मित टीके की दो खुराक दी जाएंगी। यह जानकारी परीक्षण से जुड़े हामिद हुसैनी ने दी। उन्होंने बताया कि दूसरी खुराक दिए जाने के करीब एक महीने बाद परिणाम घोषित किए जाएंगे।

Next Story
Share it