Top
undefined

सर्बिया में लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शन, दुनिया में 1.21 करोड़ केस

सर्बिया में लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शन, दुनिया में 1.21 करोड़ केस
X

वॉशिंगटन दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 1 करोड़ 21 लाख 62 हजार 680 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 70 लाख 29 हजार 521 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, 5 लाख 47 हजार 321 की मौत हो चुकी है। सर्बिया की राजधानी बेलग्रेड में गुरुवार को दूसरे दिन भी लोगों ने कोरोना की रोकथाम को लेकर लगाई गई पाबंदियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

हालांकि, सरकार ने कहा है कि यह लॉकडाउन जारी रखा जाएगा। बता दें कि यहां के लोगों ने बुधवार को भी प्रदर्शन किया था। दरअसल, पिछले हफ्ते यहां संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद राष्ट्रपति एलेक्सेंडर वुकिक ने मंगलवार को लॉकडाउन लगा दिया था।

इस बीच, जापान ने पाबंदियों में राहत देते हुए एम्यूजमेंट पार्क खोल दिए हैं। लेकिन, यहां आने वालों से कहा है कि वे शोर न मचाएं। खासकर रोलर कोस्टर की सवारी करने के दौरान लोगों से मुंह बंद रखने को कहा गया है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि बड़े झूलों पर लोग एक-दूसरे के करीब बैठे होते हैं। ऐसे में चिल्लाने पर संक्रमण फैलने का डर है।

तांबे की खदान में काम करने वाले 300 मजदूर संक्रमित

चिली में तांबे का खनन करने वाली सबसे बड़ी कंपनी कोडेल्को में 3 हजार मजदूर संक्रमित मिले हैं। इसके बाद मजदूर यूनियन और कोडेल्को समेत दूसरी खनन कंपनियों से काम रोकने की मांग की गई है। चिली में 13 जुलाई से लॉकडाउन में राहत देने का ऐलान किया गया है। यहां पर अब तक 3 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमण के मामले में यह दुनिया में छठे नंबर पर है।

अमेरिका अपडेट्स

अमेरिका के मिसीसिपी राज्य में 26 विधायक और 10 दूसरे लोग संक्रमित मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग के एक अफसर ने बुधवार को इसकी जानकारी दी। 174 सदस्यों वाले मिसीसिपी राज्य के लेजिस्लेटिव असेंबली का सालाना सत्र 1 जुलाई को खत्म हुआ है। सत्र के दौरान कई विधायक बिना मास्क के और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते नजर आए थे।

अमेरिका में बुधवार को एक ही दिन में 60 हजार नए मामले सामने आए। यह दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में सामने आए सबसे ज्यादा मामले हैं। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने के मुताबिक, बीते हफ्ते से अमेरिका के 35 राज्यों में नए मामले बढ़ रहे हैं।

संक्रमण के बढ़ते मामलों के बावजूद व्हाइट हाउस देश के स्कूलों को दोबारा खोलने का दबाव डाल रहा है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार को कहा कि स्कूल नहीं खुलने पर उन्हें दी जाने वाली फंडिंग में कटौती की जाएगी। उन्होंने स्कूलों से जुड़े सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) की गाइडलाइन्स पर भी सवाल उठाए। वहीं, उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि हम सुरक्षित तरीके से स्कूल दोबारा खोल सकते हैं।

पीएम ट्रूडो ने कहा- संक्रमण रोकने में हम अमेरिका से बेहतर

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने गुरुवार को कहा कि हमने अमेरिका से अच्छे ढंग से संक्रमण पर काबू पाया है। इससे हमें इकोनॉमी को दोबारा पटरी पर लाने में मदद मिलेगी। हालांकि, अभी पांबंदियों में राहत नहीं दी जाएगी। अगर हम जल्द कोई राहत देते हैं तो महामारी के और तेजी से लौटने की संभावना है।

एक बार फिर से डब्ल्यूएचओ का बचाव किया

चीन ने एक बार फिर से वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन का बचाव किया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिझियान ने बुधवार को कहा कि डब्ल्यूएचओ मेडिकल क्षेत्र की एक प्रोफेशनल संस्था है। इससे अलग होने का अमेरिका का फैसला एकतरफा है। झाओ ने कहा कि अमेरिका के अलग होने से विकाशसील देशों को अंतरराष्ट्रीय मदद की जरूरत होने पर कठिनाई होगी। डब्ल्यूएचओ यह पता लगा रहा है कि कोरोना दुनिया भर में कहां से फैला। इसके लिए यह अपनी एक टीम चीन भी भेजेगा।

पुलिस क्वारैंटाइन सेंटर बनाए गए होटलों के पास गश्त करेगी

न्यूजीलैंड में पुलिस ने क्वारैंटाइन सेंटर में बदले गए होटल्स के पास दिन-रात गश्त करेगी। देश में क्वारैंटाइन सेंटर से संक्रमितों के भागने की दो घटना सामने आने के बाद यह फैसला किया गया। मंगलवार को यहां एक 32 साल का व्यक्ति क्वारैंटाइन सेंटर की फेंसिंग कूदकर बाहर निकल गया था। वहीं, बुधवार को क महिला भी क्वारैंटाइन सेंटर से किसी को बिना बताए बाहर निकल गई थी। देश के स्वास्थ्यमंत्री ने मेगन वूड ने कहा कि इस तरह की लापरवाही से पूरे देश के स्वास्थ्य को खतरा हो सकता है। नए कानून के तहत ऐसा करने वालों को 6 महीने तक जेल हो सकती है।

रोम में बांग्लादेश के 135 लोगों को प्लेन से उतरने से रोका गया

इटली के रोम स्थित फ्यूमिसिनो एयरपोर्ट पर बुधवार को बांग्लादेश के 135 लोगों को प्लेन से उतरने से रोक दिया गया। ये सभी ढ़ाका से कतर की राजधानी दोहा होते हुए रोम पहुंचे थे। रोम में रह रहे बांग्लादेश के लोगों में संक्रमण के मामले बढ़े हैं। इसे देखते हुए इटली ने मंगलवार को बांग्लादेश से आने वाली सभी फ्लाइट्स पर रोक लगा दी थी।

बाली द्वीप के बीच को टूरिस्ट़स के लिए खोले गए

इंडोनेशिया ने बाली गुरुवार से बाली द्वीप पर टूरिस्ट्स को जाने की इजाजत दे दी है। यहां के बीच और छोटी दुकानों को भी खोलने की मंजूरी दी गई है। पिछले तीन हफ्ते में इंडोनेशिया में संक्रमण के मामले बढ़कर 1971 हो गए हैं और 25 लोगों की मौत हुई हैं। फिलहाल देश के ज्यादातर जगहों पर लॉकडाउन लागू है।

Next Story
Share it