Top
undefined

गुजरात के सुरेंद्रनगर में बीड़ी- सिगरेट की दुकान खुली तो लोग भूखे भेड़‍ियों की तरह टूट पड़े

गुजरात के सुरेंद्रनगर में बीड़ी- सिगरेट की दुकान खुली तो लोग भूखे भेड़‍ियों की तरह टूट पड़े
X

अहमदाबाद . जो शख्‍स रोज दिन में एक पैकेट सिगरेट फूंक जाता हो, सोचिए उसे डेढ़ महीने कुछ ना मिले तो क्‍या होगा। लॉकडाउन ने देश के लाखों लोगों को इसी परेशानी से दो-चार कराया है। बहुत से लोगों ने तो तलब पर कंट्रोल कर लिया। कुछ ने ब्‍लैक में सिगरेट-शराब तक का जुगाड़ कर लिया। कुछ टकटकी लगाए यह इंतजार करते रहे कि सरकार ऐलान करे और दुकानें खुलें। तो लीजिए, केंद्र सरकार ने 4 मई के बाद से सिगरेट-शराब की दुकानें खोलने के निर्देश दे दिए हैं। मगर अभी तो 4 मई आई भी नहीं। गुजरात के एक गांव में सिगरेट की दुकान खोल दी गई। नतीजा ये हुआ कि सैकड़ों की भीड़ दुकान पर टूट पड़ी।

एक के ऊपर एक लद गए लोग

मामला सुरेंद्रनगर जिले के सायला इलाके में स्थित एक गांव का है। यहां बीडी़-सिगरेट की एक दुकान बड़े दिनों बाद खुली। जो तस्‍वीरें और वीडियो सामने आए हैं, उसमें तो लोग शटर तक पर चढ़कर सामान खरीदने की कोशिश करते दिख रहे हैं। सैकड़ों की भीड़ थी और कोई मास्‍क नहीं लगाए था। सेाशल डिस्‍टेंसिंग की बात तो छोड़ ही दीजिए। लोग धक्‍कामुक्‍की तक करने लगे। वीडियो सामने आने के बाद पुलिस को एक्‍शन लेना पड़ा। दुकान से बीड़ी-तंबाकू-सिगरेट सब जब्‍त कर लिया गया है।

क्‍या हैं सरकार के आदेश

केंद्र सरकार ने ऑर्डर में कहा है कि शराब और पान, गुटखा, तंबाकू आदि की दुकानों पर एक साथ 5 से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकेंगे। लोगों के बीच सोशल डिस्‍टेंसिंग भी सुनिश्चित की जाएगी। ऑर्डर कहता है, 'लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने, पान, गुटखा, तंबाकू आदि खाने की इजाजत नहीं होगी। हालांकि, न्यूनतम छह फुट की दूरी (दो गज की दूरी) ग्राहकों के बीच सुनिश्चित करने के बाद शराब, पान, तंबाकू की बिक्री करने की इजाजत होगी तथा दुकान पर एक समय में पांच से अधिक लोग नहीं होंगे।'

जोन वाइज मिलेगी छूट

सरकार ने कोरोना वायरस के प्रकोप के हिसाब से इलाकों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांट दिया है। कोविड-19 मरीजों के लिहाज से ग्रीन जोन साफ-सुथरा इलाका है तो हॉटस्पॉट्स को रेड जोन करार दिया गया है। वहीं, इन दोनों कैटिगरी में नहीं आने वाले इलाकों को ऑरेंज जोन बताया गया है। ऑर्डर में यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि ये दुकानें किस जोन में खुलेगी और किसमें बंद रहेगी, इसलिए माना जा रहा है कि इन्हें रेड, ऑरेंज और ग्रीन, सभी जोनों में खोलने की अनुमति होगी।

Next Story
Share it
Top