Top
undefined

कोरोना से बचने कपड़े पर लगाया हैंड सैनिटाइजर, फिर कुकिंग गैस के पास जाने से हुआ भयानक हादसा

कोरोना से बचने कपड़े पर लगाया हैंड सैनिटाइजर, फिर कुकिंग गैस के पास जाने से हुआ भयानक हादसा
X

नई दिल्ली . देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के फैलने के बाद लोग इससे बचाव के लिए हैंड सैनिटाइजर का बड़ी संख्या में इस्तेमाल करने लग गए हैं। कई बार तो लोग नासमझी में जरूरत से ज्यादा या फिर गलत स्थानों पर सैनिटाइजर का उपयोग करते हैं, जिसका उन्हें गंभीर खामियाजा भुगतना पड़ता है। ऐसा ही एक हादसा हरियाणा में हुआ, जहां व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती करने की नौबत आ गई।

हरियाणा में रेवाड़ी के रहनेवाले 44 साल के एक व्यक्ति के शरीर का 35 फीसदी हिस्सा जलने के बाद उसे गंभीर अवस्था में दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में रविवार (29 मार्च) को भर्ती कराया गया है। दरअसल, हैंड सैनिटाइजर को अपने कपड़े पर छिड़कने के बाद वह खाना बनाने वाले गैस के नजदीक चला गया, नतीजा यह हुआ कि शरीर में आग लगने की वजह से वह जख्मी हो गया। हालांकि, फिलहाल उसकी हालत स्थिर है। प्लास्टिक और कॉस्मेटिक डिपार्टमेंट सर्जरी, सर गंगाराम अस्पताल ने यह जानकारी दी।

इसके साथ ही आग अथवा गर्माहट वाली जगह पर सैनिटाइजर के इस्तेमाल को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी गई। प्लास्टिक और कॉस्मेटिक डिपार्टमेंट सर्जरी, सर गंगाराम अस्पताल के चेयरमैन डॉक्टर महेश मंगल ने कहा, "हैंड सैनिटाइजर में 62 प्रतिशत तक का हाई इथाइल अल्कोहल होता है, जो कि इसे उच्च स्तरीय ज्वलनशील पदार्थ बनाता है। आग या फिर गर्माहट वाले स्थान पर सैनिटाइजर का प्रयोग ना करें। जितने की जरूरत हो, उतनी ही मात्रा में सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए और फिर इसे सूखने देना चाहिए।"

Next Story
Share it
Top