Top
undefined

एटीएस ने जम्मू के रामबन से संदिग्ध को दबोचा, बरेली से गिरफ्तार अल कायदा से जुड़े इनामुल के संपर्क में था युवक

एटीएस ने जम्मू के रामबन से संदिग्ध को दबोचा, बरेली से गिरफ्तार अल कायदा से जुड़े इनामुल के संपर्क में था युवक
X

लखनऊ. उत्तर प्रदेश एंटी टेरेरिस्ट स्क्वॉयड ने रविवार को जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले के मैत्रा गांव से 25 साल के सलमान खुर्शीद वानी नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया है। ट्रांजिट रिमांड पर यूपी एटीएस वानी को लखनऊ ला रही है। एटीएस चीफ डीके ठाकुर ने बताया कि, गिरफ्तार किए गए युवक वानी का संबंध बरेली में रहने वाले मोहम्मद इमानुल्ला से था, जिसके बाद से उसकी तलाश की जा रही थी। इनामुल को 19 जून को पकड़ा गया था। उस पर आरोप है कि, वह युवाओं को जिहाद के लिए उकसा रहा था और उन्हें आतंकी संगठनों के लिए भर्ती कर रहा था। इनामुल के संपर्क में वानी था।

जेहाद फैलाने और युद्ध छेड़ने की बात के सुबूत मिले

एटीएस के सूत्रों ने बताया- बरेली का रहने वाले मोहम्मद इमानुल्ला ने कुछ दिन पहले युवाओं को आंतकी संगठनों में भर्ती होने और देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने का एलान किया था। जब इनामुल्ला पकड़ा गया तो उसके मोबाइल से अल कायदा से जुड़े दस्तावेज बरामद हुए थे। रामबन का रहने वाला युवक वानी कुछ माह पहले नोएडा में था। उसने यहां कौशल विकास कार्यक्रम के तहत तीन 3 महीने तक इलेक्ट्रिशियन का प्रशिक्षण हासिल लिया था। सलमान खुर्शीद वानी इस दौरान बरेली में गया और वहां मोहम्मद इमानुल्ला से मिला था। इसको लेकर मोबाइल में चैट भी मिला है। वानी को कानूनी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद यूपी एटीएस के हवाले कर दिया गया हैं।

परिजन बोले- नोएडा जरूर गया, पर उसका किसी आतंकी से संबंध नहीं

एटीएस चीफ ने बताया- खुर्शीद वानी के बाबत रामबन पुलिस ने इनपुट साझा किया गया था। उसकी गिरफ्तारी में पुलिस ने भी मदद की। वानी को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के तुरंत बाद ही स्क्वाॅयड के जवान वानी को लेकर यूपी के लिए रवाना हो गए। वहीं, वानी के परिवार वालों का कहना है कि, वह नोएडा जरूर गया था। लेकिन, उसका किसी आतंकी या इनामुल नाम के व्यक्ति से संपर्क नहीं है। वह बीमार चल रहा है। इस संबंध में एटीएस को दस्तावेज सौंपे गए हैं।

Next Story
Share it
Top