Top
undefined

कोरोना .... देश में अब तक 23 मौतें .... केरल में इस संक्रमण से पहली मौत, कोच्चि में 69 साल के व्यक्ति ने दम तोड़ा

कोरोना .... देश में अब तक 23 मौतें .... केरल में इस संक्रमण से पहली मौत, कोच्चि में 69 साल के व्यक्ति ने दम तोड़ा
X

नई दिल्ली. भारत में कोरोनावायरस के संक्रमण के 900 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। शनिवार को केरल के कोच्चि मेडिकल कॉलेज में 69 साल के व्यक्ति की मौत हो गई। राज्य में इस संक्रमण से यह पहली मौत है। इससे पहले शुक्रवार को इस महामारी से देश में दो मौतें हुई थीं। सुबह तुमकुर में कोरोना संक्रमण से जूझ रहे 65 साल के बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। वहीं, शाम को मुंबई से खबर आई। यहां 65 साल की बुजुर्ग महिला ने कस्तूरबा अस्पताल में आखिरी सांस ली। कोरोना संक्रमण से शनिवार तक देश में 23 लोगों की जान चली गई है।

सबसे ज्यादा 5 मौत महाराष्ट्र में

महाराष्ट्र इकलौता राज्य है, जहां देश में अब तक संक्रमण से सबसे ज्यादा 5 लोग मारे गए। यहां 85 साल के संदिग्ध डॉक्टर की भी मौत की खबर है। कहा जा रहा है वह भी कोरोना से संक्रमित था, लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

10 हजार नए वेंटिलेटर खरीदने का फैसला

गुरुवार को देश के अलग-अलग राज्यों में 7 संक्रमितों की जान गई थी। इनमें से दो सिर्फ राजस्थान के भीलवाड़ा में थीं। इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने शुक्रवार को बताया- 'वेंटिलेटर की कमी दूर करने के लिए 10 हजार नए वेंटिलेटर खरीदने का फैसला लिया गया है। साथ ही सरकारी उपक्रम भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) से 30 हजार वेंटिलेटर तैयार करने को कहा गया है।

कर्नाटक में अब तक तीन मौतें हुईं

उधर, कर्नाटक में आज तीसरी मौत हुई। इससे पहले यहां 11 और 26 मार्च को कोरोना से मौत हुई थी। शुक्रवार को जिस बुजुर्ग ने जान गंवाई वह 5 मार्च को संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के एस6 कोच में परिवार के 13 सदस्यों के साथ दिल्ली गया था। यहां वह जामिया मस्जिद भी गया था। इसके बाद 11 मार्च को बुजुर्ग कोंगु एक्सप्रेस के एस9 कोच में बैठकर तुमकुर लौटा था। 18 मार्च को कफ और बुखार की शिकायत के बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। 24 मार्च को बुजुर्ग जिला अस्पताल से छुट्टी लेकर प्राइवेट इलाज कराने लगा। लेकिन बाद में फिर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मृतक के 24 करीबी ट्रेस किए गए

कर्नाटक के स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, बुजुर्ग के 24 सबसे करीबी लोगों को ट्रेस किया जा चुका है। जिसमें से 13 लोगों को आइसोलेट किया गया है। इन 13 के अलावा तीन हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स और 8 लोगों की टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है। हालांकि, इन 11 लोगों को घर पर क्वारैंटाइन किया गया है।

Next Story
Share it
Top