Top
undefined

कोरोना वायरस की जांच के लिए आईआईटी दिल्ली ने बनाई आरटी-पीसीआर किट, आईसीएमआर से मिली हरी झंडी

आईआईटी दिल्ली ऐसा पहला शैक्षणिक संस्थान बन गया है जिसे आरटी-पीसीआर आधारित किट के लिए आईसीएमआर से अप्रूवल मिली है।

कोरोना वायरस की जांच के लिए आईआईटी  दिल्ली ने बनाई आरटी-पीसीआर किट, आईसीएमआर से मिली हरी झंडी
X

नई दिल्ली: ऐसे वक्त में जब देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को टेस्ट करने के लिए किट की भारी तादाद में जरूरत है और चीन जैसे देशों से जो किट आई हैं उनमें अधिकतर की क्वालिटी खराब निकल रही है। अब ऐसे मुश्किल समय में भारतीय वैज्ञानिकों ने एक कमाल दिखाया है। जी हां, आईआईटी दिल्ली ने किट बनाकर तैयार की है जिसको आईसीएमआर ने भी जांच के बाद हरी झंडी दिखा दी है। अब इसी किट से देश भर में आरटी पीसीआर किट के जरिए टेस्ट होंगे। ये किट जल्द ही बाजार में उपलब्ध होगी। आईआईटी दिल्ली की दो कम्पनियों से इसके लिए बातचीत चल रही है। बाजार में आने के बाद सस्ते और सही तरीके से कोरोना की जांच हो सकेगी। आईआईटी दिल्ली के कुसुमा स्कूल ऑफ बॉयोलोजिकल साइंसेज के रिसर्चर्स ने कोविड-19 की जांच के लिए जो किट तैयार की है उसे आईसीएमआर ने अपनी मंजूरी दे दी है। आईआईटी दिल्ली ऐसा पहला शैक्षणिक संस्थान बन गया है जिसे आरटी-पीसीआर आधारित किट के लिए आईसीएमआर से अप्रूवल मिली है। बता दें कि देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक कोरोना संक्रमितों की संख्या 23 हजार के पार पहुंच गई है। जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 718 हो गई है। 4749 मरीज ठीक होकर अपने घर वापस जा चुके हैं। वहीं, एक राहत की भी खबर है। देश के 3 राज्य अब तक कोरोना संक्रमण से पूरी तरह मुक्त हो गए हैं।ताजा मामला त्रिपुरा का है जहां कोरोना के सभी मरीज ठीक हो गए हैं। वहीं गोवा और मणिपुर भी उन राज्यों में शामिल हैं, जहां कोरोना का प्रकोप शांत हो गया है। ये राज्य भी कोरोना से मुक्त हो गए हैं।

Next Story
Share it
Top