Top
undefined

मध्यप्रदेश में सियासी उठापठक ... विधायक के इस्तीफे के बाद हमलावर मूड में कांग्रेस, ये बनायी रणनीति

हटा से भाजपा विधायक पीएल तंतुवाय के गायब होने से हड़कंप, दोपहर बाद बोले- फोन बंद था

मध्यप्रदेश में सियासी उठापठक ... विधायक के इस्तीफे के बाद हमलावर मूड में कांग्रेस, ये बनायी रणनीति
X

भोपाल. मध्य प्रदेश में तीन दिन से सियासी ड्रामा जारी है । कांग्रेस विधायक डंग के इस्तीफ के बाद कांग्रेस के बड़े नेता अब भाजपा से बदला लेने की रणनीति बना रहे हैं। कांग्रेस ने अपने सभी विधायकों को भोपाल बुला लिया है. विधायक को राजधानी में ही रहने के निर्देश दिए गए हैं ।

इधर, कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग के इस्तीफा देने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सीएम हाउस में मीटिंग बुलाई है। इसमें सभी मंत्रियों के साथ बसपा विधायक रामबाई और दिग्विजय सिंह भी शामिल रहे । दमोह की पथरिया सीट से बसपा की विधायक रामबाई काफी समय से मंत्री पद की इच्छा सार्वजनिक मंचों से भी व्यक्त कर चुकी हैं। माना जा रहा है- सीएम उन्हें मनाने के लिए मंत्री बना सकते हैं।

कमलनाथ ने ली मंत्रियों की बैठक

प्रदेश की राजनीति में आए सियासी संकट से निपटने के लिए कमलनाथ ने शुक्रवार को कैबिनेट की बैठक बुलाई। इसमें बजट को लेकर चर्चा होनी थी, लेकिन मंत्रियों ने यहां पर कहा कि आप हम सबके इस्तीफे ले लीजिए, लेकिन आपके साथ हैं। हालांकि कमलनाथ ने मंत्रियों को इस्तीफा देने से मना कर दिया। साथ ही मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर भी चर्चा की।

उधर, दमोह के हटा से भाजपा विधायक पीएल तंतुवाय के गायब होने की खबरें भी आ रही थीं। दोपहर में वह सामने आए और बोले- मेरा मोबाइल डिस्चार्ज होने के कारण बंद हो गया था। मैं बाहर था, इसलिए किसी से संपर्क नहीं हो पा रहा था। मैं कहीं गायब नहीं हुआ हूं।

क्या बोले विधायकों को रुपयों का प्रलोभन दिया जा रहा

दिग्विजय सिंह ने कहा है- भाजपा की सरकार में हुए हजार करोड़ के ई-टेंडरिंग घोटाले पर ईओडब्ल्यू का शिकंजा भाजपा नेताओं पर कसता जा रहा है। उन्होंने माध्यम में भी घोटाला किया है। उस पर एक एफआईआर हो गई है। अब वह छटपटा रहे हैं, इसलिए मनमाना पैसा देने का विधायकों को प्रलोभन दे रहे हैं।

भाजपा नेता दिल्ली में जुटे

दिल्ली में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के निवास पर भाजपा के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान, नरोत्तम मिश्रा, वीडी शर्मा, गोपाल भार्गव के साथ केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और प्रहलाद पटेल रणनीति बना रहे हैं। भाजपा नेता नरोत्तम मिश्रा ने दिल्ली में कहा- मप्र में गंदगी कांग्रेस ने फैलाई है और आरोप हम पर लगा रहे हैं। ये गलत है। दो विधायकों को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस उन्होंने किया, लेकिन हम तो किसी विधायक लेकर मीडिया के सामने नहीं आए हैं। हम जोड़-तोड़ की राजनीति नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे एक पूर्व मंत्री और विधायक को धमकाया जा रहा है।

मंत्री प्रदीप जायसवास का यू-टर्न

मंत्री प्रदीप जायसवाल ने यू-टर्न लेते हुए कहा कि मीडिया ने मेरे बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है। मेरा मुख्यमंत्री कमलनाथ से 20 साल का संबंध हैं। मैं हर मुश्किल घड़ी में उनके साथ खड़ा हूं। मैंने भाजपा की सरकार बनने पर उन्हें समर्थन देने की बात कही नहीं थी। हरदीप डंग के इस्तीफा की मुझे कोई जानकारी नहीं है।

Next Story
Share it
Top