Top
undefined

मुख्यमंत्रियों संग बैठक में जब मोदी गमछे का मास्क पहने नजर आए

कोरोना संकट के बीच शनिवार को जब पीएम मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मिले तो इस दौरान एक चीज ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा।

मुख्यमंत्रियों संग बैठक में जब मोदी गमछे का मास्क पहने नजर आए
X

नई दिल्ली, कोरोना वायरस लॉकडाउन आगे बढ़ेगा या नहीं, इस पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग बैठक की। कोरोना संकट के बीच शनिवार को जब पीएम मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मिले तो इस दौरान एक चीज ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। दरअसल, इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री से लेकर सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के चेहरे पर मास्क दिखे। पीएम मोदी ही नहीं, बल्कि उनके अलावा, जितने भी राज्यों के मुख्यमंत्री थे, सभी ने अपने चेहरे पर मास्क लगाया था। यहां ध्यान देने वाली बात है कि पीएम मोदी का मास्क गमछे का बनाया हुआ लग रहा है। बता दें कि मास्क पहनने से संक्रमण का खतरा कम हो जाता है। समाचार एजेंसी एएनआई ने पीएम मोदी से लेकर सीएम तक की तस्वीरें जारी की हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठक में घर का बनाया हुआ गमछे का मास्क पहने हुए हैं। इसके अलावा, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा आदि मास्क पहने नजर आए। यह बात अहम इसलिए भी है क्योंकि कोरोना के खिलाफ जंग में सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा मास्क भी एक तरह से कारगर हथियार है, जिसे लेकर केंद्र से लेकर राज्य सरकारें नागरिकों से अपील कर रही हैं। दिल्ली, यूपी समेत कई जगहों पर तो मास्क को अनिवार्य कर दिया गया है। बिना मास्क के देखे जाने पर कानूनी कार्रवाई का प्रावधान भी है। माना जा रहा है कि राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ देशव्यापी लॉकडाउन को आगे बढ़ाने के सवाल पर चर्चा करने के बाद पीएम मोदी इस बात पर फैसला ले सकते हैं कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जाए या नहीं। प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्रियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐसे समय में होने जा रही है जब कई राज्य एवं अनेक विशेषज्ञों ने केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस के मद्देनजर 25 मार्च को लागू 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन को 14 अप्रैल से आगे बढ़ाया जाए। मोदी ने बुधवार को लोकसभा एवं राज्यसभा में विपक्ष समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से कहा था कि कोरोना वायरस के कारण लागू देशव्यापी लॉकडाउन एक बार में नहीं हटाया जाएगा । उन्होंने इस बात पर जोर दिया था कि हर व्यक्ति के जीवन को बचाना उनकी सरकार की प्राथमिकता है। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री ने कहा कि कई राज्य, जिला प्रशासन और विशेषज्ञों ने वायरस को फैलने से रोकने के लिये लॉकडाउन को बढ़ाने का सुझाव दिया है। बहरहाल, ओडिशा और पंजाब ने इस दिशा में कदम आगे बढ़ाते हुए राज्य में लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ने का निर्णय किया है। इससे पहले 2 अप्रैल को मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद के दौरान मोदी ने उनसे लॉकडाउन से 'क्रमवार तरीके से बाहर आने बारे में सुझाव मांगा था।

Next Story
Share it
Top