Top
undefined

भोपाल ..... लगातार ड्यूटी से तनाव में आए आरक्षक ने खुद को मारी गोली, हालात गम्भीर

भोपालरातीबड़ थाने में पदस्थ एक पुलिसकर्मी ने मंगलवार दोपहर 3:15 बजे नीलबड़ चौराहे पर ड्यूटी के दौरान अंधाधुंध फायरिंग कर सनसनी फैला दी! आरक्षक ने हवा में फायरिंग के बाद खुद को मारी गोली! बचाने के लिए दौड़े साथी पुलिसकर्मियों पर लहराई पिस्टल, गंभीर हालत में आरक्षक को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है! घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी डीआईजी व अन्य पुलिस अधिकारी अस्पताल पहुंचे.

बताया जाता है कि आरक्षक लगातार ड्यूटी की वजह से डिप्रेशन में था! जानकारी के अनुसार चेतन ठाकुर थाना रातीबड़ में बीते कई महीनों से आरक्षक के पद पर तैनात है और पुलिस लाइन में परिवार के साथ रहता है! कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते शहर में किए गए लॉकडाउन में वे बीते 2 सप्ताह से रातीबड़ थाने के अलग-अलग पॉइंट पर लगातार ड्यूटी कर रहे थे! बीते कुछ दिनों से उनकी ड्यूटी नीलबड़ चौराहे पर लगाई गई थी आज दोपहर 3:15 बजे ड्यूटी समाप्त होने के बाद चेतन ठाकुर ने अपनी सर्विस पिस्तौल निकाली और हवा में लहराते हुए गोली चला दी! इसके बाद उसने एक गोली अपने कनपटी में मारना चाहा, लेकिन निशाना चूकने की वजह से गोली कंधे में जा धंसी! इसके बाद साथ में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों ने दौड़कर उसे बचाना चाहा तो उस उन पुलिसकर्मियों पर भी उसने पिस्तौल लहराते हुए वह सड़क पर गिर गया! आनन-फानन में रातीबड़ थान प्रभारी और आला अधिकारियों को सूचना दी गई.

इसके बाद मौके पर पहुंचे रातीबड़ थाना प्रभारी व टीटी नगर सीएसपी ने आरक्षक को शाहपुरा स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है! बताया जाता है कि 3:00 बजे उसकी ड्यूटी समाप्त हुई थी, लेकिन उसे आराम करने के लिए अनुमति नहीं मिली और आगे ड्यूटी करने के लिए कहा गया हालांकि आरक्षक चेतन ठाकुर से किस व्यक्ति आया अधिकारी ने आगे ड्यूटी करने को कहा इसका स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आ सकी है!

तनाव या अन्य कारण जांच शुरू

शुरुआती जांच में गोली चलाने का कारण आरक्षक का तनाव में रहना बताया जा रहा है। उसकी लगातार ड्यूटी लगाई जा रही थी, जिससे वह मानसिक तनाव में था। जानकारी के अनुसार पुलिस लाइन में रहने वाला पुलिस आरक्षक चेतन ठाकुर लंबे समय से रातीबड़ थाने में पदस्थ है। हालांकि डीआईजी इरशाद बलि ने कहा कि आरक्षक ने किन परिस्थितियों में खुद पर गोली चलाई इसकी जांच कराई जा रही है! अभी तक आरक्षक का व्यवहार सामान्य था इसलिए लगातार ड्यूटी की वजह से तनाव में खुद को गोली मारने जैसी बात अभी सामने नहीं आई है!जांच के बाद ही स्पष्ट कारण सामने आ सकेगा.

सड़क पर लहूलुहान पड़ा रहा आरक्षक

गोली लगने से गंभीर रूप से घायल होने के बाद आरक्षक लड़खड़ाते हुए बीच सड़क पर गिर गया.

मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी ने लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़े आरक्षक को गाड़ी में रख कर उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

इनका कहना है

गीली लगने से चेतन ठाकुर की हालत गंभीर है, उसका आपरेशन चल रहा है! चेतन से बातचीत के बाद ही बताया जा सकेगा कि उसने खुद को गोली क्यों मारी, परिजनों से संपर्क कर जानकारी जुटाई जा रही है!

साई कृष्णा थोटा, एसपी, भोपाल (साउथ)

Next Story
Share it
Top