Top
undefined

कोरोना वायरस महामारी से इकॉनमी को बचाने के लिए आरबीआई ने की बड़ी घोषणाएं

दुनिया को 9 ट्रिलियन डॉलर का नुकसान होने की आशंका, पूरा विश्व कोरोना की बुरी गिरफ्त में है

कोरोना वायरस महामारी से इकॉनमी को बचाने के लिए आरबीआई  ने की बड़ी घोषणाएं
X

मुंबई. कोविड-19 से धीमी पड़ी आर्थिक गतिविधियों के लिए शुक्रवार को आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। शक्तिकांत दास ने कहा, 50,000 करोड़ रुपए की कीमत के TLTRO 2.0 को लॉन्च करेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते यह सबसे काला दौर है और हमें उजाले की तरफ देखना है। उन्होंने कहा कि भारत के लिए 1.9% जीडीपी वृद्धि का IMF का अनुमान G20 देशों में सबसे अधिक है और साथ ही बैंकों ने उचित कार्य करना सुनिश्चित किया है, उनका काम प्रशंसनीय योग्य है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, ''आज मानव जाति सबसे मुश्किल दौर से गुजर रही है। दुनिया कोरोना की बुरी गिरफ्त में है। हम सबसे काले दौर में हैं, लेकिन हमें उजाले की तरफ देखना है। कोरोना संकट पर आरबीआई की पूरी नजर है। बैंकिंग सेक्टर पूरी तरह से काम कर रहा है। आईएमएफ ने भले ही भारत के लिए 1.9% जीडीपी ग्रोथ का अनुमान जताया है, लेकिन यह अनुमान जी-20 समूह के बाकी देशों की तुलना में सबसे ज्यादा है।'' उन्होने कहा कि प्री-मानसून खरीफ की बुवाई आक्रामक या तेज रही है। पिछले साल अप्रैल बनाम अप्रैल में धान की फसल 37 प्रतिशत तक रही है। 15 अप्रैल को भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सामान्य दक्षिण पश्चिम मानसून का पूर्वानुमान लगाया है। दीर्घकालिक औसत के आधार पर बारिश भी ठीक होगी।

27 मार्च को आरबीआई ने की थी राहत पैकेज की घोषणा

कोरोनावायरस संकट के बीच आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने 27 मार्च को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रेपो रेट में 0.75% की कटौती का ऐलान किया था। साथ ही यह भी कहा कि टर्म लोन की ईएमआई चुकाने में 3 महीने की छूट मिलेगी। कैश रिजर्व रेश्यो (सीआरआर) 1% घटाकर 3% किया गया था। आरबीआई के इन कदमों से सिस्टम में 3.74 लाख करोड़ रुपए की नकदी बढ़ाने में मदद मिलने का अनुमान है। 27 मार्च को ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने तीन दिन में दूसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। इसमें उन्होंने कहा कि दूसरे राज्यों से आने वाले कामगारों और गरीबों के लिए एक पैकेज तैयार है। यह पैकेज 1.70 लाख करोड़ रुपए का है। हमारी कोशिश रहेगी कि गांवों और शहरों में रहने वाला कोई भी गरीब भूखा न सोए। इसके तहत गरीबों को हर महीने 10 किलो का मुफ्त अनाज दिया जाएगा। किसानों को भी आर्थिक मदद दी जाएगी। महिलाओं, बुजुर्गों और कर्मचारियों के लिए भी ऐलान किए गए हैं।

सेंसेक्स में 1,050 अंकों की उछाल

आरबीआई गवनर्र की प्रेस कांफ्रेंस से पहले खुले शेयर बाजार में जबरदस्त देखी गई है। बीएसई सेंसेक्स 1,050 अंकों की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा था। शानदार ग्लोबल संकेतों के बीच सेंसेक्स और निफ्टी में भी तेजी के साथ कारोबार की शुरुआत हुई है। दिग्गज शेयरों के साथ ही मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी तेजी देखने को मिल रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 2.17 फीसदी की तेजी के साथ कारोबार कर रहा है। वहीं, बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 1.66 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है। तेल-गैस शेयरों में भी आज तेजी नजर आ रही है। बीएसई का ऑयल एंड गैस इंडेक्स 2.15 फीसदी की तेजी के साथ कारोबार कर रहा है।

Next Story
Share it
Top