Top
undefined

पीएम मोदी ने बचायी उद्धव ठाकरे की सीएम की कुर्सी, उद्धव ने मोदी को किया था फ़ोन

पीएम मोदी ने बचायी उद्धव ठाकरे की सीएम की कुर्सी, उद्धव ने मोदी को किया था फ़ोन
X

मुंबई . मुंबई. महाराष्ट्र विधानसभा परिषद की 9 सीटों के लिए चुनाव 21 मई को होंगे। चुनाव आयोग ने शुक्रवार को यह घोषणा की। इसके पहले राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की गुरुवार को चुनाव करवाने की सिफारिश आयोग से की थी। सभी 9 सभी सीटें 24 अप्रैल को खाली हुई थीं। लॉकडाउन की वजह से उपचुनाव संभव नहीं थे, इसलिए उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी से फ़ोन पर आग्रह किया, और राज्यपाल से बात कर रास्ता निकालने की अपील की थी

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के लिए यह चुनाव बेहद अहम है। वे न विधानासभा के और न विधान परिषद के सदस्य हैं। उनका छह महीने का कार्यकाल 28 मई को खत्म हो रहा है। इस लिहाज से उनकी कुर्सी को खतरा था। दरअसल, ठाकरे ने 28 नवंबर, 2019 को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, वे अभी तक किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं। संविधान के मुताबिक- उन्हें छह महीने में विधानसभा या विधान परिषद का सदस्य बनना जरूरी, अगर ऐसा नहीं होगा तो पद छोड़ना पड़ता। उद्धव ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की थी।

कैबिनेट ने दो बार उद्धव को मनोनीत करने का प्रस्ताव भेजा था

राज्यपाल ने चुनाव आयोग से विधान परिषद के चुनाव कराने की सिफारिश गुरुवार को की। इसके पहले महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने दो बार प्रस्ताव पारित कर राज्यपाल से सिफारिश की थी कि वह उद्धव ठाकरे को विधान परिषद का सदस्य मनोनीत कर दें। लेकिन, राज्यपाल ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी। उद्धव ठाकरे को गवर्नर के मनोनीत कोटे से विधान परिषद का सदस्य बनाने के लिए कैबिनेट ने राज्यपाल के पास प्रस्ताव भेजा था। राज्य में इससे पहले दत्ता मेघे और दयानंद महास्के को भी मंत्री बनने के बाद राज्यपाल विधान परिषद के लिए मनोनीत कर चुके हैं।

Next Story
Share it
Top