Top
undefined

इकोनॉमी में तेजी जरूर आएगी, कोरोना के खिलाफ हमें सख्त कदम उठाने हैं, लेकिन अर्थव्यवस्था का भी ध्यान रखना है

सरकार ने सोमवार को छोटे-मध्यम उद्योगों की मदद के लिए पोर्टल भी लॉन्च किया था

इकोनॉमी में तेजी जरूर आएगी, कोरोना के खिलाफ हमें सख्त कदम उठाने हैं, लेकिन अर्थव्यवस्था का भी ध्यान रखना है
X

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब से थोड़ी देर में इंडस्ट्री एसोसिएशन सीआईआई के कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। इस दौरान मोदी देश की इकोनॉमी को फिर से ट्रैक पर लाने के मुद्दे पर बात करेंगे। लॉकडाउन के बाद 1 जून से शुरू हुए अनलॉक-1 में मोदी पहली बार इकोनॉमी की बात करेंगे।

जीडीपी ग्रोथ 11 साल के निचले स्तर पर

सरकार ने पिछले शुक्रवार जीडीपी ग्रोथ के आंकड़े जारी किए। चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में ग्रोथ रेट घटकर 3.1 फीसदी रही। वहीं, पूरे फाइनेंशियल ईयर में 4.2 फीसदी रही। ये 11 साल का सबसे निचला स्‍तर है। इससे पहले 2009 में जीडीपी ग्रोथ इस स्‍तर के करीब थी।

सरकार ने पिछले महीने 20 लाख करोड़ के पैकेज घोषित किए थे

पहले से ही दिक्कतों से जूझ रही देश की अर्थव्यवस्था को कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की वजह से और झटका लगा है। इकोनॉमी को कोरोना के असर से बचाने के लिए सरकार ने पिछले महीने 20 लाख करोड़ रुपए के पैकेज घोषित किए थे, इनमें आरबीआई की घोषणाएं भी शामिल थीं। मोदी कैबिनेट ने सोमवार को खरीफ की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) बढ़ाने और छोटे-मध्यम उद्योगों (एमएसएमई) से जुड़ी योजनाओं को भी मंजूरी दी थी। मोदी ने एमएसएमई की मदद के लिए चैम्पियन पोर्टल भी लॉन्च किया है।

Next Story
Share it
Top