Top
undefined

मास्क नहीं लगाने वालों से कोविड सेंटर में सेवा कराने का गुजरात हाईकोर्ट का आदेश था, सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाई

सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिया है कि वह कोविड सेंटर्स पर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की गाइडलाइन सुनिश्चित करे। दरअसल, गुजरात हाईकोर्ट ने बुधवार को आदेश दिया था कि राज्य में मास्क नहीं पहनने वालों को कोरोना सेंटर में 5-6 घंटे सेवा करनी पड़ेगी।

मास्क नहीं लगाने वालों से कोविड सेंटर में सेवा कराने का गुजरात हाईकोर्ट का आदेश था, सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाई
X

नई दिल्ली, मास्क नहीं लगाने वालों से कोविड सेंटर में सेवा कराने के गुजरात हाईकोर्ट के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट ने एक दिन बाद ही रोक लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिया है कि वह कोविड सेंटर्स पर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की गाइडलाइन सुनिश्चित करे। दरअसल, गुजरात हाईकोर्ट ने बुधवार को आदेश दिया था कि राज्य में मास्क नहीं पहनने वालों को कोरोना सेंटर में 5-6 घंटे सेवा करनी पड़ेगी। इस सेवा के दिन 5 से 15 तक हो सकते हैं। ये दिन बिना मास्क पकड़े जाने वालों की उम्र और मेडिकल हिस्ट्री को देखते हुए तय किए जाएंगे। राज्य सरकार को इस आदेश पर नोटिफिकेशन जारी करने को भी कहा था। हाईकोर्ट के इस आदेश को राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी।

'बिना मास्क वालों से सिर्फ जुर्माना वसूली काफी नहीं'

चीफ जस्टिस विक्रम नाथ की बेंच में इस मामले की सुनवाई हुई। बेंच ने कहा कि मास्क नहीं पहनने वालों से सिर्फ जुर्माना वसूलना काफी नहीं है। बिना मास्क वालों से सेवा करवाने के लिए सरकार किसी संस्था को जिम्मेदारी सौंपे। चीफ जस्टिस ने कहा कि यह एक अहम मुद्दा है, मास्क लगाना सभी के लिए जरूरी है। कोरोना की स्थिति पर राज्य सरकार की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि 108 एंबुलेंस सेवा और 104 सेवा को मिलने वाले फोन कॉल, अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या, मरीजों को दिए जाने वाले ऑक्सीजन और इंजेक्शन की कमी को देखें तो बीते तीन दिनों में हालात सुधरे हैं। सोमवार तक स्थिति और बेहतर हो जाएगी। सख्ती से नियम लागू करने के लिए चौराहों पर पुलिस तैनाती कर रखी है।

गुजरात में हर दिन करीब डेढ़ हजार केस आ रहे

गुजरात में अब तक कोरोना के 2.12 लाख केस आ चुके हैं। इनमें से 1.94 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं, 4018 संक्रमितों की मौत हो चुकी है और 14 हजार 713 मरीजों को इलाज चल रहा है। यहां हर दिन करीब डेढ़ हजार नए केस आ रहे हैं। सबसे ज्यादा करीब तीन हजार एक्टिव केस अहमदाबाद में हैं।

Next Story
Share it