Top
undefined

दिल्ली का इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पार्किंग स्थल में बदल गया, रनवे पर खड़े करने पड़े 100 से ज्यादा विमान

रोज 700 से अधिक विमानों की आवाजाही वाले दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 194 विमान पार्किंग में खड़े हैं

दिल्ली का इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पार्किंग स्थल में बदल गया, रनवे पर खड़े करने पड़े 100 से ज्यादा विमान
X

दिल्ली. लॉकडाउन से देश में यात्री विमान सेवाएं बंद हैं, जिससे एयरपोर्ट पर न कोई शोर है, न आवाजाही। रोज 700 से अधिक विमानों की आवाजाही वाला दिल्ली का इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पार्किंग स्थल बन गया है। वहां 194 विमान पार्किंग में खड़े हैं और यह फुल है। ऐसे में 24 विमानाें काे रनवे-1 पर खड़ा करना पड़ा है। चार्टर्ड विमान अलग हैं। डीजीसीए में 648 विमान रजिस्टर्ड हैं। इस तरह दिल्ली में ही एक तिहाई से अधिक विमान पार्क हैं। यहां रनवे-2 से सिर्फ कार्गो विमान उड़ान भर रहे हैं। दिल्ली से देश के विभिन्न हिस्सों में अब तक 55 कार्गो विमानों से मेडिकल उपकरण पहुंचाए जा चुके हैं। इसमें एअर इंडिया और इंडिगो के 8 विमान शामिल हैं। मुंबई से भी 4-10 कार्गो विमानों से दवा और मेडिकल उपकरणों की हैंडलिंग हो रही है।

मुंबई एयरपोर्ट पर 30% स्टाफ मेंटेनेंस और सफाई के काम में जुटा

मुंबई एयरपोर्ट पर कुल कर्मचारियों में से फिलहाल 30% यानी करीब 400 लोग ही काम पर आ रहे हैं। इनमें से ज्यादातर मेंटेनेंस और क्लीनिंग स्टाफ है। यह स्टाफ एसी व रनवे की लाइट, आईटी सिस्टम पूरी तरह काम कर रहे हैं या नहीं, इसे रोज जांचता है।

22 मार्च काे 62 विमान पार्क, 24 से घरेलू उड़ानें भी ठहरीं

देश में 22 मार्च से अंतरराष्ट्रीय सेवाएं बंद हो गई थीं। उसी दिन दिल्ली में 64 विमान पार्क हो गए। इसके बाद 24 मार्च की अाधी रात से सभी घरेलू उड़ानें बंद कर दी गईं। अगर चार्टर्ड विमानों को जोड़ लिया जाए तो दिल्ली में पार्क विमानों की संख्या 250 से अधिक हो जाएगी।

Next Story
Share it
Top