Top
undefined

एमपी : कांग्रेस के छह मंत्रियों समेत 11विधायक भोपाल से गायब, बेंगलुरू में जमाया डेरा , सभी के फ़ोन बंद

एमपी : कांग्रेस के छह मंत्रियों समेत 11विधायक भोपाल से गायब, बेंगलुरू में जमाया डेरा , सभी के फ़ोन बंद
X

नई दिल्ली/ भोपाल. मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल गहरा गए हैं . तीन मार्च से शुरू हुआ सियासी ड्रामा अब और तेज हो गया है. सोमवार शाम को कांग्रेस के 17 विधायक भोपाल से गायब हो गए हैं. ये सभी सिंधिया समर्थक हैं. इनमें छह मंत्री भी शामिल हैं. ये सभी बेंगलरू में ठहरे हुए हैं . इधर, बताया जाता है कि संकट हल करने के लिए कांग्रेस देर रात तक सिंधिया को मध्य प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष घोषित कर सकती है .

सोमवार शाम को सीएम कमलनाथ दिल्ली में सोनिया गाँधी से मिलने गए थे. उन्होंने सोनिया गाँधी से मिलकर प्रदेश की राजनीति कि जानकारी दी. इस बीच जानकारी मिली कि कुछ विधायक गायब हो गए हैं इसलिए वह तुरंत भोपाल आ गए. भोपाल में सीएम हाउस में कांग्रेस नेताओं की बैठक चल रही है. सीएम कमलनाथ अपने लीगल एडवाइजर विवेक तन्‍खा से सलाह-मशवरा कर रहे हैं. कमलनाथ की मीटिंग में जीतू पटवारी, गोविंद सिंह, बाला बच्‍चन आदि मौजूद हैं. इस बैठक में कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह की मौजूदगी की जानकारी मिल रही है. वैसे सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को एमपी कांग्रेस की कमान संभालने का ऑफर दिया गया है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल जाने के बजाए दिल्‍ली में ही जमे हुए हैं. इस बीच खबर मिल रही है कि कांग्रेस नेता सिंधिया पीएम नरेंद्र मोदी से मिल सकते हैं. सीएम की बैठक में प्रदेश के कृषि मंत्री सचिन यादव सीएम हाउस पहुंच चुके हैं. कांग्रेस नेताओं के अलावा मुख्य सचिव एस आर मोहंती भी सीएम हाउस में मौजूद हैं. ज्योतिरादित्य के भी इस बैठक में आने की सूचना थी, लेकिन जानकारी मिल रही है कि वो अभी दिल्ली में मौजूद हैं.

सोनिया गांधी से मुलाकात

मध्य प्रदेश में सियासी उठापटक के बीच सीएम कमलनाथ आज दिल्ली आए और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिले. कुछ देर की मुलाकात के बाद वो बाहर निकले और मीडिया से बात भी की. कमलनाथ ने कहा भोपाल जा रहा हूं. आगे की रणनीति वहीं बनाई जाएगी. उन्होंने कहा राज्यसभा सीट और दावेदारी को लेकर कोई विवाद नही हैं. हमारी नेता सोनिया गांधी से मेरी हर मुद्दे पर चर्चा हुई है. राज्‍यसभा के नामों को फैसला जल्‍दी किया जाएगा.

सिंधिया समर्थक मंत्री-विधायकों के फोन बंद

इस बीच सिंधिया समर्थक मंत्री और विधायकों का नया पैंतरा सामने आया है. सिंधिया खेमे के मंत्रियों और विधायकों के फोन स्विच ऑफ हैं. इसमें विधायक जसवंत जाटव, मुन्नालाल गोयल, गिर्राज दंडोतिया, ओपीएस भदौरिया के अलावा कमलनाथ सरकार में मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, महिला विकास मंत्री इमरती देवी और स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट जैसे बड़े नाम शामिल हैं. पता चला है कि ये 6 मंत्री और 11 विधायक बंगलुरू में हैं.

कमलनाथ सरकार ये 6 मंत्री गायब

लोक स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री तुलसी सिलावट, परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत, खाद्य व आपूर्ति मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर, महिला व बाल विकास मंत्री इमरती देवी, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी, श्रम मंत्री महेन्द्र सिसोदिया, वन मंत्री उमंग सिंघार

ये 11 विधायक बेंगलुरू में

मुन्ना लाल गोयल, गिरिराज दंडोतिया, ओपी भदोरिया, विरजेंद्र यादव, जसपाल जजजी, कमलेश जाटव, राजवर्धन सिंह, रघुराज कंसना, सुरेश धाकड़, हरदीप डंग, रक्षा सिरोनिया जसवंत

Next Story
Share it
Top