Top
undefined

भोपाल में पहले कोरोना संक्रमण की पुष्टि, 5 दिन पहले लंदन से लौटी लड़की की रिपोर्ट पॉजिटिव

स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया- प्रोफेसर कॉलोनी निवासी 26 वर्षीय लड़की लंदन में एलएलएम की पढ़ाई कर रही है

भोपाल में पहले कोरोना संक्रमण की पुष्टि, 5 दिन पहले लंदन से लौटी लड़की की रिपोर्ट पॉजिटिव
X

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोनावायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या 5 हो गई है। रविवार को भोपाल की प्रोफेसर कॉलोनी में एक लड़की संक्रमित मिली। वह पांच दिन पहले ही लंदन से लौटी थी। इससे पहले संक्रमण के 4 मरीज शुक्रवार को जबलपुर में मिले थे। इनमें से तीन एक ही परिवार के थे, जो दुबई से लौटे थे। चौथा मरीज स्विट्जरलैंड से आया था। सभी मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया कि भोपाल लौटी 26 वर्षीय लड़की लंदन में एलएलएम की पढ़ाई कर रही है। वह 17 मार्च की सुबह दिल्ली पहुंची थी। आईजीआई एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग के बाद डॉक्टर्स ने उसे फिट घोषित किया था। इससे बाद वह शताब्दी एक्सप्रेस में सवार होकर भोपाल आई थी। रविवार दोपहर को परिजनों ने कलेक्टर तरुण पिथौड़े से संपर्क कर कोरोना जांच की मांग की थी। इस पर जेपी अस्पताल के डॉक्टर्स की टीम ने घर पहुंचकर लड़की के थ्रोट के सुआब का नमूना लिया था, जिसे जांच के लिए भोपाल एम्स भेजा गया। अब उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। लड़की का परिवार सीहोर में रहता है। परिवार के कुछ लोग भोपाल में रहते हैं।

शहर का वीवीआईपी इलाके में रहती है युवती

भोपाल में कोरोना का पहला मामला जिस कॉलोनी में मिला है वो बेहद पॉश इलाका है। इस इलाके में प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती सहित कई मंत्री, विधायक और अधिकारी रहते हैं। यहां से सीएम हाउस और राजभवन एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं।

लोगों की बन रही लिस्ट

युवती के परिवार के सभी सदस्यों को होम आइसोलेट किया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम उन लोगों की लिस्ट भी बना रही है, जिनसे वो 17 मार्च से लेकर 22 मार्च तक मिल चुकी है। उससे मिलने सीहोर के कुछ लोग भी आए थे। बताया जा रहा है कि इस बीच युवती शहर के एक बड़े डॉक्टर से भी इलाज कराने गई थी। कोई फायदा नहीं मिलने के बाद परिजन उसे लेकर सरकारी अस्पताल पहुंचे थे।

Next Story
Share it
Top