Top
undefined

हादसे के बाद आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की मांग, यूनिट बंद की जाए

विशाखापट्टनम गैस लीक हादसे के बाद आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने एलजी पॉलिमर्स यूनिट को बंद करने की मांग की है. नायूड ने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर पूरे हादसे की जांच कराने की भी मांग की.

हादसे के बाद आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की मांग, यूनिट बंद की जाए
X


विशाखापट्टनम। विशाखापट्टनम गैस लीक हादसे के बाद आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने एलजी पॉलिमर्स यूनिट को बंद करने की मांग की है. नायूड ने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर पूरे हादसे की जांच कराने की मांग की और साथ ही जांच के बाद पूरी यूनिट को स्पेशल इकोनॉमिक जोन (एसईजेड) में शिफ्ट करने की भी मांग की गई है.

विशाखापट्टनम की जिस एलजी पॉलीमर कंपनी के प्लांट से गैस रिसाव हुआ था, वो फैक्ट्री लॉकडाउन के दौरान देश की बाकी फैक्ट्रियों की तरह बंद पड़ी थी. लॉकडाउन-3 में रियायतों के बाद तीन दिन पहले ही प्लांट में काम शुरु हुआ था. गैस लीक की शुरुआत तड़के ढाई बजे हुई थी. जब तक रोकने में कामयाबी मिल पाती गैस रिसाव तेजी से इलाके में फैल गया.

सूरज निकलने तक विशाखापट्टनम में खलबली मच चुकी थी. सीएम जगनमोहन रेड्डी ने जिले के अफसरों से तुरंत बातचीत कर लोगों की जान बचाने के लिए हर संभव मदद करने का निर्देश दिया तो पीएम नरेंद्र मोदी ने जगनमोहन रेड्डी से फोन पर बात कर हरसंभव मदद का यकीन दिलाया. पीएम मोदी ने ट्वीट कर गैस कांड पर गहरी संदेवना व्यक्त की.

हादसे को लेकर सुबह 11 बजे पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में एनडीएमए की बैठक शुरू हो गई. गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह राज्यमंत्री जी किशनरेड्डी के अलावा आपदा प्रबंधन से जुड़े आला अधिकारी बैठक में मौजूद थे. अधिकारियों को यथा संभव मदद करने का निर्देश दिया गया.

Next Story
Share it
Top