Top
undefined

आंध्र प्रदेश को मिली राहत, तबलीगी जमात के कोरोना पॉजिटिव 13 सदस्य की रिपोर्ट आई निगेटिव

कडप्पा में कोरोना वायरस से संक्रमित तबलीगी जमात के 13 सदस्य निगेटिव पाए गए हैं. अब उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे गई है.

आंध्र प्रदेश को मिली राहत, तबलीगी जमात के कोरोना पॉजिटिव 13 सदस्य की रिपोर्ट आई निगेटिव
X


हैदराबाद। आंध्र प्रदेश ने ली चैन की सांस ली है. कडप्पा में कोरोना वायरस से संक्रमित तबलीगी जमात के 13 सदस्य निगेटिव पाए गए हैं. अब उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे गई है. पहले तबलीगी जमात के ये 13 सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

कडप्पा जिले में कोरोना वायरस के 36 पॉजिटिव केस मिले थे जिनका दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज से नाता जुड़ा था. इनमें 13 अब स्वस्थ हो चुके हैं. कडप्पा के फातिमा कॉलेज में 17 दिन चले इलाज के बाद उन्हें छुट्टी दे गई है. आंध्र प्रदेश के डिप्टी सीएम अमजथ बाशा ने कोरोना पॉजिटिव मरीजों के ठीक के बाद प्रत्येक को 2000 रुपये दिए. जिन लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है.

क्वारनटीन पूरा करने के बाद अगर COVID-19 टेस्ट नेगेटिव आता है तो क्वारनटीन के छूटने के बाद प्रत्येक गरीब व्यक्ति को 2000 रुपये दिए जाएंगे ताकि वह खाने पीने की पौष्टिक चीजें खरीद सके.

कोरोना महामारी पर हुई एक समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने सीएम जगनमोहन को बताया किया कि सरकार प्रत्येक व्यक्ति के भोजन, बिस्तर और कंबल के लिए 500 रुपये, स्वच्छता के लिए 50 रुपये और परिवहन पर 300 रुपये खर्च कर रही है. बुधवार को राज्य में 5000 से अधिक लोग राज्य के विभिन्न क्वारनटीन सेंटर में रह रहे थे. आंध्र सरकार प्रतिदिन 4000 टेस्ट करने पर भी जोर दे रही है.

बता दें कि आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने एक अहम फैसला लेते हुए घोषणा की थी कि सरकारी सुविधाओं में क्वारनटीन पूरा करने वाले प्रत्येक गरीब व्यक्ति को सरकार 2,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी.

Next Story
Share it
Top