Top
undefined

मस्जिद में नहीं पालन किया सोशल डिस्टैन्सिंग, ममता ने मुर्शिदाबाद के एसपी अजीत सिंह यादव को हटाया

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार ने शुक्रवार की नमाज के दौरान एक मस्जिद में बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों के जमा होने के बाद मुर्शिदाबाद के एसपी अजीत सिंह यादव को हटा दिया है

मस्जिद में नहीं पालन किया सोशल डिस्टैन्सिंग, ममता ने मुर्शिदाबाद के एसपी अजीत सिंह यादव को हटाया
X

कोलकाता। देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन की अवधि 3 मई तक बढ़ा दी गई है. साथ ही संक्रमण से बचने के लिए लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग की सलाह दी जा रही है. इस बीच, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार ने शुक्रवार की नमाज के दौरान एक मस्जिद में बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों के जमा होने के बाद मुर्शिदाबाद के एसपी अजीत सिंह यादव को हटा दिया है.

ममता बनर्जी ने कहा, 'सामाजिक मेल मिलाप के कार्यक्रम बंद होने चाहिए. रोड किनारे खड़े होकर बात भी नहीं करनी है. पुलिस को कुछ क्षेत्रों में बाजारों में प्रतिबंध लगाना चाहिए. एक दुकान के सामने पांच से अधिक लोगों को लाइन में नहीं लगना चाहिए.'

इसके अलावा ममता सरकार ने लॉकडाउन में संवेदनशील इलाकों की निगरानी की जिम्मेदारी सशस्त्र पुलिस बलों को सौंप दी है. बंगाल सरकार ने राज्य के कुछ हिस्सों में सशस्त्र पुलिस तैनात करने का फैसला किया है, जिनकी पहचान 'रेड' ज़ोन के रूप में की गई है क्योंकि कोरोना वायरस का प्रकोप उन क्षेत्रों में गंभीर रहा है.

शुक्रवार को फैसले की घोषणा करते हुए, सीएम ममता बनर्जी ने कहा, "हावड़ा में स्थिति बहुत खराब है. यदि परिवार के भीतर संक्रमण होता है तो इससे सामुदायिक संक्रमण का खतरा पैदा हो सकता है और इससे बहुत सारे लोग प्रभावित होंगे. अगर जरूरत पड़ी तो हावड़ा बाजार जैसे संवेदनशील इलाके में सशस्त्र पुलिस की तैनाती की जानी चाहिए, जहां भारी भीड़ जमा होती है और सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बनी रहती है

विरोधियों की इस आलोचना के बीच कि राज्य सरकार संकट की भयावहता को कम करने के लिए तथ्यों को छिपा रही है, ममता बनर्जी ने खुलासा किया है कि कई जिलों को 'संवेदनशील और बहुत संवेदनशील' के रूप में चिन्हित किया गया है.

बता दें कि जब केंद्र सरकार ने चार जिलों- कोलकाता, हावड़ा, उत्तर 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर को 'हॉटस्पॉट' के रूप में चिन्हित किया है, ममता बनर्जी प्रशासन ने इस तरह के किसी भी नामकरण से खुद को दूर कर लिया है.

इस बीच, पिछले 24 घंटों में बंगाल में कोरोना वायरस के 22 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिससे राज्य में कोविड-19 मामलों की संख्या को बढ़कर 162 तक हो गई है.

Next Story
Share it
Top