Top
undefined

सर्दियों में चाय पीना है फायदेमंद लेकिन बिना दूध वाली पिएं

गर्मा गर्म अदरक वाली एक प्याली चाय। चाय न सिर्फ शरीर में गर्मी लाकर एनर्जी देने का काम करती है बल्कि हार्ट के लिए भी फायदेमंद है।

सर्दियों में चाय पीना है फायदेमंद लेकिन बिना दूध वाली पिएं
X

कड़ाके की सर्दी का मौसम है और ऐसे में अगर सर्दी को कोई चीज कम कर सकती है तो वो है गर्मा गर्म अदरक वाली एक प्याली चाय। चाय न सिर्फ शरीर में गर्मी लाकर एनर्जी देने का काम करती है बल्कि हार्ट के लिए भी फायदेमंद है। ऐंटी-इन्फ्लेमेट्री और ऐंटिऑक्सिडेंट प्रॉपर्टीज से भरपूर चाय कैंसर से बचाने में भी मदद करती है। लेकिन अगर आपने चाय में दूध मिला दिया तो इसका पॉजिटिव असर खत्म हो जाता है। जर्मन वैज्ञानिकों द्वारा की गई हैरान करने वाली इस स्टडी की मानें तो चाय में दूध डाल देने से चाय की ऐंटिऑक्सिडेंट्स और ब्लड वेसल्स को फैलाने की क्वॉलिटी खत्म हो जाती है और यही 2 मुख्य फैक्टर है जो आपके हार्ट को हेल्दी रखता है। इस स्टडी को यूरोपियन हार्ट जर्नल में प्रकाशित किया गया है। रिसर्च में ये भी कहा गया कि चाय में मौजूद फ्लैवनॉयड्स जिसे कैटेचिन्स कहते हैं, हार्ट के लिए अच्छा होता है। लेकिन दूध में मौजूद प्रोटीन का एक ग्रुप जिसे केसिन्स कहते हैं वह जब चाय के साथ मिक्स होता है तो कैटेचिन्स के कॉन्सनट्रेशन को कम कर देता है और चाय के फायदे आपके शरीर को नहीं मिल पाते। लिहाजा बिना दूध और कम चीनी वाली काली चाय पीना ही है फायदेमंद। अगर आप दूध वाली चाय दिन में 2 कप से ज्यादा पी लें तो आपको इन्सॉमनिया यानी नींद न आने की बीमारी हो सकती है। इतना ही नहीं दूध वाली चाय ज्यादा पीने से तनाव, बेचैनी और मानसिक सेहत को भी नुकसान होता है। चाय में एक केमिकल होता है थियोफीलाइन। अगर इसका ज्यादा सेवन किया जाए तो शरीर डीहाइड्रेट हो जाता है और कब्ज की दिक्कत हो सकती है। इसके अलावा चाय में ज्यादा दूध डालकर पीने से ब्लोटिग यानी पेट फूलने की समस्या हो जाती है। चाय में मौजूद कैफीन और दूध की वजह से पेट में गैस की समस्या हो जाती है। चाय पीने से वैसे तो शरीर डीटॉक्सिफाई होता है लेकिन अगर दूध वाली चाय ज्यादा पी जाए तो शरीर में ज्यादा गर्मी हो जाती है जिससे चेहरे पर पिंपल्स आने का खतरा बढ़ जाता है।

Next Story
Share it
Top