Top
undefined

अब मोवाईल वेन से होगी राजस्व वसूली, 5 वार्ड प्रभारी निलंबित

राजस्व वसूली में अत्यधिक पिछडऩे वाले जोनल अधिकारियों एवं सहायक यंत्रियों पर भी होगी कार्रवाई

अब मोवाईल वेन से होगी राजस्व वसूली, 5 वार्ड प्रभारी निलंबित
X

भोपाल, नगर निगम भोपाल द्वारा निगम के देय करों की वसूली के लिए सख्ती से कार्यवाही की जा रही है और बकायादारों की सम्पत्ति भी कुर्क की जा रही है वहीं निगम के राजस्व वसूली में लापरवाही बरतने वाले अमले पर भी सख्त कार्यवाही शुरू की गई है। राजस्व वसूली में अत्यधिक पिछडऩे वाले 05 वार्ड प्रभारियों को निलंबित कर दिया गया है जबकि राजस्व वसूली में अत्यधिक पिछडऩे वाले जोनल अधिकारियों एवं सहायक यंत्रियों (जलकार्य) के विरूद्ध भी इसी प्रकार की कार्यवाही करने की भी बात निगम के अपर आयुक्त (राजस्व एवं सम्पत्तिकर) कमल सोलंकी द्वारा कही गई है।

इन 5 लोगों पर गिरी गाज

राजस्व वसूली में अत्यधिक पिछडऩे वाले 05 वार्ड प्रभारियों जोन-02 वार्ड-06 के वार्ड प्रभारी गगन सोनी, जोन-03 वार्ड-13 के वार्ड प्रभारी रामजस पटेल, जोन-03 वार्ड-14 के मधुकर राव, जोन-05 वार्ड-23 के वार्ड प्रभारी एहसान रजा जैदी तथा जोन-08 वार्ड-42 के वार्ड प्रभारी सुनील वर्मा को निगम प्रशासन ने निलंबित किया गया है। जबकि राजस्व वसूली में अत्यधिक पिछडऩे वाले जोनल अधिकारियों के विरूद्ध भी इसी प्रकार की कार्यवाही की जाएगी। इसके अलावा जलदर की वसूली में लापरवाही बरतने वाले और अत्यधिक पिछडऩे वाले सहायक यंत्रियों के विरूद्ध भी ऐसी ही कार्यवाही करने की चेतावनी दी गई है।

मोबाईल वेन करेगा वसूली

नगर निगम भोपाल द्वारा निगम के देय करों की राशि जमा करने हेतु नागरिकों को और अधिक सुविधा देने के दृष्टिगत मोबाईल वेन का संचालन किया जाकर शहर के नागरिकों को कर जमा करने की घर पहुंच सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इस वेन के माध्यम से किसी भी क्षेत्र का कर जमा किया जा सकेगा। इसके अलावा निगम द्वारा शहर के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित नागरिक सुविधा केन्द्र के माध्यम से भी करदाताओं को शहर के किसी भी क्षेत्र का कर किसी भी नागरिक सुविधा केन्द्र में जमा करने की सुविधा दी जा रही है, जहां पर करदाता आसानी से निगम के देय करों को जमा कर सकते है।

पृथक-पृथक प्रभारी नियुक्त

निगम आयुक्त विजय दत्ता ने दुकान लायसेंस, मीट लायसेंस, होर्डिंग, पार्किंग, तह बाजारी, मनोरंजन कर, प्रदर्शन कर, भवन अनुज्ञा शुल्क, समझौता शुल्क, स्पॉट फाईन आदि की प्रभावी वसूली व भवन अनुज्ञा व समझौता प्रकरणों का त्वरित गति से निराकरण करने हेतु पृथक-पृथक कार्यों के लिए प्रभारी अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है साथ ही वार्डों में वसूली कार्य हेतु कर्मचारियों को भी संलग्न किया गया है। निगम आयुक्त ने वसूली कार्य का सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए निर्देशित किया है कि वसूली कार्य में आने वाले कठिनाई को आपसी समन्वय स्थापित कर दूर करायेंगे।

Next Story
Share it