Top
undefined

गृहमंत्री ने शहीद की बेटी से कहा-अगले हफ्ते से आपको करनी है प्रदेश की सेवा

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बेटी फाल्गुनी पाल को बताया कि सरकार ने उन्हें सब इंस्पेक्टर की नौकरी देने का फैसला किया है। उन्हें अगले ही हफ्ते ड्यूटी ज्वाइन करनी है।

गृहमंत्री ने शहीद की बेटी से कहा-अगले हफ्ते से आपको करनी है प्रदेश की सेवा
X

भोपाल। कोरोना आपदा में ड्यूटी के दौरान पॉजिटिव हुए और फिर अपनी जान गंवाने वाले उज्जैन के टीआई यशवंत पाल की बेटी को मध्य प्रदेश सरकार सब इंस्पेक्टर की नौकरी देगी। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने शनिवार को यशवंत पाल की बेटी फाल्गुनी पाल से वीडियो कॉल के जरिए बात की। नरोत्तम मिश्रा ने बेटी फाल्गुनी पाल को बताया कि सरकार ने उन्हें सब इंस्पेक्टर की नौकरी देने का फैसला किया है। उन्हें अगले ही हफ्ते ड्यूटी ज्वाइन करनी है।

टीआई की बेटी गृहमंत्री से बात कर हुईं भावुक

नरोत्तम मिश्रा ने बेटी फाल्गुनी का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि जो हो चुका है उसे वापस नहीं लाया जा सकता लेकिन अब उन्हें सब इंस्पेक्टर बन कर न केवल अपने परिवार की मदद करनी है बल्कि इस प्रदेश की सेवा भी करनी है। नरोत्तम मिश्रा से वीडियो कॉलिंग के दौरान फाल्गुनी भावुक हो गईं।

कोरोना ड्यूटी के दौरान शहीद हुए थे यशवंत पाल

उज्जैन के नीलगंगा थाने के टीआई यशवंत पाल की कोरोना से इंदौर में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। 27 मार्च को उनके थाना क्षेत्र अमर कॉलोनी में कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत हुई थी। इसके बाद इस कंटेनमेंट एरिया की जिम्मेदारी यशवंत पाल खुद निभा रहे रहे थे। ड्यूटी के दौरान ही यशवंत कोरोना पॉजिटिव हो गए और बाद में उनकी हालत खराब होती चली गई। लंबे इलाज के बाद उन्होंने इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में दम तोड़ दिया था।

सरकार ने दिया था मदद का भरोसा

यशवंत पाल के निधन पर खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुख जताया था। सीएम की ओर से परिवार को यह भरोसा दिया गया था कि सरकार उनकी हर संभव मदद करेगी सरकार की ओर से परिवार को ?5000000 की सहायता राशि और एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का वादा किया गया था। इसके साथ ही सरकार यशवंत पाल को मरणोपरांत कर्मवीर सम्मान से सम्मानित भी करेगी।

Next Story
Share it