Top
undefined

प्रदेश के इस सोलर पॉवर प्लांट को मिलेगा पुरस्कार

वर्ष 2019–20 के प्रधानमंत्री पुरस्कार के लिए इस प्रोजेक्ट को चयनित किया गया है।

प्रदेश के इस सोलर पॉवर प्लांट को मिलेगा पुरस्कार
X

भोपाल। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में मॉडल बने रीवा के अल्ट्रा मेगा सोलर पॉवर प्लांट के नाम एक और उपलब्धि जुडऩे जा रही है। इस प्रोजेक्ट को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत करने की तैयारी की गई है। वर्ष 2019–20 के प्रधानमंत्री पुरस्कार के लिए इस प्रोजेक्ट को चयनित किया गया है। प्रोजेक्ट से जुड़े प्रमुख अधिकारियों को दिल्ली में आयोजित होने वाले समारोह में बुलाया गया है। यह पुरस्कार सिविल सर्विसेज डे के अवसर आगामी 21 अप्रेल को दिया जाएगा। उसी दिन सरकार की ओर से आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा की जाएगी और प्रदेश सरकार के अधिकारियों को पुरस्कृत किया जाएगा। 750 मेगावॉट क्षमता के इस सोलर पॉवर प्लांट का अब तक आधिकारिक रूप से लोकार्पण नहीं हुआ है। जबकि इसमें करीब एक वर्ष पहले से ही बिजली का उत्पादन प्रारंभ हो गया है। बीते 3 जनवरी 2020 से इसकी तीनों इकाइयों में क्षमता के अनुरूप बिजली का उत्पादन किया जा रहा है।

पहले भी सरकार मॉडल प्रोजेक्ट के रूप में पेश कर चुकी है

रीवा के अल्ट्रामेगा सोलर पॉवर प्लांट का नाम पहली बार राष्ट्रीय स्तर पर नहीं आ रही है। इसके पहले कई ऐसे अवसर आए हैं जब इस प्रोजेक्ट को सरकार ने मॉडल के रूप में पेश किया है। वर्ष 2018 में आयोजित इंटरनेशनल सोलर समिट में भारत सरकार की ओर से इस प्रोजेक्ट को मॉडल प्रोजेक्ट के रूप में पेश किया गया था। जिसमें दुनिया के कई देशों ने इसी के आधार पर अपने यहां भी सोलर पॉवर प्लांट विकसित करने की तैयारी शुरू कर दी है। कुछ महीने पहले ही यहां पर 13 देशों के प्रतिनिधि के रूप में शोधार्थी आए थे। मध्यप्रदेश की सरकार की ओर से दो बार इसका उल्लेख विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण में कराया गया है।

Next Story
Share it