Top
undefined

घर घर जाकर कोरोना पीड़ित मरीज़ों की पहचान कर रही हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता

इन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 10 अप्रैल तक सभी 85 वार्डो के सर्वे करना होगा। हर एक एक घर की सर्वे रिपोर्ट 10अप्रैल तक पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। यानि काम ज़्यादा है और समय कम है। ये सर्वे रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपी जाएगी।

घर घर जाकर कोरोना पीड़ित मरीज़ों की पहचान कर रही हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता
X

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 327 हो गई है। इनमें सबसे ज़्यादा केस इंदौर और फिर उसके बाद भोपाल का नंबर है। हालात से फिक्रमंद प्रशासन अब भोपाल में सर्वे करा रहा है। घर-घर जाकर कोरोना मरीज़ों की तलाश और पहचान की जा रही है। सर्वे की जि़म्मेदारी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सौंपी गयी है। राजधानी भोपाल में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 94 गई है।ऐसे में अब जिला प्रशासन कैंटोनमेंट क्षेत्र के अलावा हर घर का सर्वे करा रहा है।राजधानी भोपाल के सभी 85 विभागों में हर एक घर की पूरी जानकारी जुटाई जा रही है। सर्वे का काम बुधवार से शुरू हो गया है।ये जि़म्मेदारी भी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दी गयी है। वो घर घर जाकर जानकारी जुटा रही हैं।परिवार के हर सदस्य की जानकारी कोरोना पॉजिटिव मरीजों के बढऩे के साथ ही भोपाल में केंटोनमेंट क्षेत्र बना दिए गए हैं।

घर-घर सर्वे

सबसे पहले केंटोनमेंट क्षेत्र के आसपास के घरों का सर्वे किया जा रहा है। कलेक्टर के निर्देश के बाद राजधानी भोपाल के 85 वॉर्डों में हर एक घर का सर्वे किया जा रहा है।आंगनवाड़ी कार्यकर्ताएं एक-एक घर में जाकर सर्वे कर रही हैं। इसमें हर वॉर्ड के हर परिवार की जानकारी ली जा रही है। वो पूछ रही हैं परिवार में कुल सदस्य कितने है। 60 से ज्यादा उम्र के व्यक्तियों की संख्या कितनी है।कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने वाले व्यक्तियों की जानकारी भी जुटाई जा रही है। घर में अगर किसी व्यक्ति में सर्दी जुकाम बुखार जैसे कोई लक्षण तो नहीं हैं। यदि लक्षण हैं तो उस व्यक्ति की उम्र, मोबाइल नंबर के साथ पूरी डिटेल्स सर्वे में ली जा रही है।भोपाल में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मरीजों के बाद ही कलेक्टर ने सर्वे के निर्देश जारी किए हैं।

10 अप्रैल तक सर्वे पूरा करने के निर्देश

इन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 10 अप्रैल तक सभी 85 वार्डो के सर्वे करना होगा। हर एक एक घर की सर्वे रिपोर्ट 10अप्रैल तक पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। यानि काम ज़्यादा है और समय कम है। ये सर्वे रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपी जाएगी।

Next Story
Share it