Top
undefined

अब मुनाफाखोरी और कालाबाजारी करने वालों की खैर नहीं

कोलार स्थित जैन किराना एवं जनरल स्टोर के विरुद्ध कार्रवाई कर किराना दुकान को किया सील

अब मुनाफाखोरी और कालाबाजारी करने वालों की खैर नहीं
X

भोपाल, कोरोना संकटकालीन समय में खादान्न और अति आवश्यक वस्तुओं की मुनाफाखोरी और कालाबाजारी की शिकायत मिल रही हैं। जिस पर प्रशासन द्वारा कड़ी कार्यवाही भी की जा रही है। इसी क्रम में सोमवार 13 अप्रैल को प्राप्त शिकायत पर संज्ञान लेते हुए कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव के निर्देशन पर खाद्य और श्रम विभाग ने कोलार रोड स्थित जैन किराना एवं जनरल स्टोर के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करते हुए किराना दुकान को सील कर दिया। कमिश्नर ने सख्त लहजे में कहा है कि शहर में मुनाफाखोरी और कालाबाजारी करने वालों को किसी भी स्थिति में छोड़ा नहीं जाएगा, शिकायत मिलने पर सख्ती के साथ तुरंत कार्रवाई करवाई जाएगी।

ये था मामला

कोलार क्षेत्र रहवासियों द्वारा लगातार शिकायत प्राप्त हो रही थी कि जे. के. हॉस्पिटल के सामने स्थित जैन किराना एवं जनरल स्टोर द्वारा खाद्यान्न और अन्य अति आवश्यक वस्तुएं एमआरपी और तय कीमतों से काफी अधिक कीमतो पर बेची जा रही है। आमजन द्वारा दुकानदार से शिकायत करने पर उसने कहा कि 'जहां शिकायत करना है कर दोÓ। उक्त शिकायत पर त्वरित संज्ञान लेते हुए सोमवार को खाद्य और श्रम विभाग के संयुक्त दल को भेजा गया। जहां मौके पर तय कीमतों से अधिक पर सामान बेचने, कालाबाजारी और बिना खाद्य पंजीयन व्यापार करने के विरुद्ध विधिक कार्यवाही करते हुए दुकान को सील कर दिया गया।

कमिश्नर ने दी चेतावनी

कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव ने मीडिया से कहा कि संकटकालीन समय में टोटल लॉकडाउन के दौरान आमजन के बीच खादान्न और अति आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए प्रशासन हर संभव प्रयास कर रहा है। प्रशासन के साथ-साथ सभी थोक व्यापारियों और सब्जी विक्रेताओं का यह सामाजिक दायित्व है कि वह आमजन को कम से कम उचित मूल्य पर वस्तुएं और सब्जियां उपलब्ध करा कर अपना सहयोग दें। कमिश्नर ने सभी सब्जी और राशन व्यापारियों को चेतावनी दी है कि इस तरह की कालाबाजारी और मुनाफाखोरी बर्दाश्त नहीं की जाएगी और शिकायत प्राप्त होने पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

Next Story
Share it