Top
undefined

विदेशों में फंसे मप्र के लोगों को लेकर विशेष विमान आज आएगा भोपाल

विदेशों में फंसे लोगों की वापसी के लिए केंद्र सरकार ने पहल की है। 7 मई से मिशन वंदे भारत सेवा शुरू की गयी है।

विदेशों में फंसे मप्र के लोगों को लेकर विशेष विमान आज आएगा भोपाल
X

भोपाल। कोरोना वायरस संक्रमण और लॉक डाउन के कारण विदेशों में फंसे भारतीयों को लेकर सोमवार शाम को पहला विशेष विमान भोपाल पहुंच रहा है। वंदे भारत मिशन के तहत फंसे हुए भारतीयों को लाया जा रहा है। यह विमान तुर्की से आ रहा है। वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों से भारतीयों की अपने अपने राज्य में वापसी शुरू हो चुकी है। मध्य प्रदेश के निवासियों की भी वापसी होने जा रही है। विशेष विमान से तुर्की में फंसे भारतीयों को लेकर भोपाल पहुंच रहा है। करीब 270 से ज्यादा लोग 11 मई शाम तक विशेष विमान से भोपाल पहुंचेंगे। इनमें विदेश में नौकरी करने गए, विदेशों में रह रहे भारतीय, अर्धसैनिक बलों के जवान और डेपुटेशन पर विदेशों में भेजे गए सरकारी विभागों के अधिकारी और कर्मचारी शामिल हैं। वापसी का सिलसिल दो दिन तक चलेगा। विशेष विमान के भोपाल पहुंचने से पहले अधिकारियों ने एयरपोर्ट पर सुरक्षा व्यवस्था के साथ तैयारियों का जायजा लिया।

थ्री ईएमई सेंटर में रखा जाएगा सभी को

विदेशों से लौटे भारतीयों की एयरपोर्ट पर पहले स्क्रीनिंग की जाएगी। फिर उन्हें स्पेशल बसों से थ्री ईएमई सेंटर ले जाया जाएगा। विदेश से लौटे लोगों के लिए थ्री ईएमई सेंटर में 500 बेड का अस्पताल तैयार किया गया है। यहां उन्हें क्?वारंटाइन में रखा जाएगा।

ही थ्रीएमई सेंटर हॉस्पिटल

22 मार्च को जनता कर्फ्यू और फिर उसके बाद 25 मार्च रात 12 बजे से देशभर में लॉक डाउन शुरू हुआ था।पहले लॉक डाउन के दौरान ही बाहर से लौटे लोगों के लिए थ्रीईएमई सेंटर में 500 बेड का अस्पताल तैयार किया गया था। बाहर से आने वाले लोगों की एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग के बाद कोरोना के लक्षण वाले लोगों को 3 श्वरूश्व सेंटर में बने कोविड-19अस्पताल में रखने की तैयारी पूरी कर ली गई थी।

एयरपोर्ट पर सोशल डिस्टेंस

भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पर फिलहाल फ्लाइट्स की आवाजाही पूरी तरह से बंद है। आवाजाही शुरू होने से पहले ही एयरपोर्ट अथॉरिटी ने सुरक्षा इंतजाम पूरे कर लिए हैं। एयरपोर्ट पर तैनातजवानों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए लकड़ी के केबिन नुमा बॉक्स बनाए गए हैं। उसमें सामने ग्लास लगा है। जवान उसके अंदर खड़े होकर यात्रियों के टिकट चैक करेंगे। लगेज,लैंडिंग और बोर्डिंग करते समय एक किलोमीटर का दायरा बनाए रखने के लिए जगह-जगह पर गोल घेरे और एरो बनाए गए हैं ताकि लोग एक दूसरे से एक मीटर की दूरी बनाए रखें।वेटिंग एरिया में भी कुर्सियों के बीच डिस्टेंस मेंटेन किया गया है। तीन चेयर वाली कुर्सियों में बीच वाली कुर्सी पर रेड रिबिन लगा दिया गया है।। ताकि लोग एक चेयर छोड़कर ही फासले के साथ बैठें।

7 मई से शुरू की गई मिशन वंदे भारत एक्सप्रेस

कोरोना वायरस के कारण देशभर में 17 मई तक लॉक डाउन है। इस वजह से बस, रेल और हवाई यातायात भी बंद है।विदेशों में फंसे लोगों की वापसी के लिए केंद्र सरकार ने पहल की है।07मई से मिशन वंदे भारत एक्सप्रेस सेवा शुरू की गयी है। 4 दिन से विदेशों में फंसे हज़ारों भारतीयों की भारत वापसी का सिलसिला जारी है।लंदन,मलेशिया,दुबई, आबूधावी सहित दूसरे देशों में फंसे भारतीयों की वापसी कराई जा रही है।

Next Story
Share it