Top
undefined

मध्यप्रदेश में जून के तीसरे सप्ताह में मानसून पहुंचने की संभावना, अभी तक बारिश की गतिविधियां समय पर चल रहीं

अगले 24 घंटे में इंदौर, होशंगाबाद और पचमढ़ी समेत अन्य जगहों पर गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना अभी तेज बारिश के लिए लोगों को इंतजार करना होगा, मानसून के सामान्य रहने की उम्मीद बनी हुई है

भोपाल. मध्यप्रदेश में प्री-मानसून से बारिश शुरू हो चुकी है। हालांकि, प्रदेश में पूरी तरह से मानसून के सक्रिय होने में कुछ समय है। इसके जून के तीसरे सप्ताह में आने की संभावना जताई जा रही है। अगले 24 घंटे की बात करें तो मौमस विभाग की वरिष्ठ वैज्ञानिक ममता यादव ने बताया कि भोपाल इंदौर, होशंगाबाद, उज्जैन और पचमड़ी में गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। अभी तक मानसून अपने समय पर चल रहा है। माह के अंत तक यह पूरे प्रदेश में सक्रिय हो सकता है।

इन संभागों में बारिश की संभावना

मौसम विभाग के अनुसार, इंदौर, होशंगाबाद, पचमढ़ी संभागों और भोपाल के आउटर इलाकों में गरज-चमक के बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा, ग्वालियर, डिंडोरी, अनूपपुर, मंडला, सिवनी, दमोह और सागर संभागों में बूंदाबांदी हो सकती है। बीते 24 घंटे की बात करें तो रायसेन के उदयपुरा में सबसे ज्यादा 57 मिमी बारिश दर्ज की गई। बड़वानी में 54 मिमी, रातलाम में 49 और नीमच में 42 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई।

भोपाल में उमस रहेगी

राजधानी में फिलहाल अगले 24 घंटे के दौरान सिर्फ बूंदाबांदी की संभावना बनी हुई है। बुधवार रात का न्यूनतम तापमान सामान्य से 0.9 डिग्री सेल्सियस कम 25.4 डिग्री रहा। हालांकि, तीखी धूप से लोगों को राहत रहेगी, लेकिन उमस परेशान करेगी। देर रात मौसम में बदलाव की कुछ संभावना बन रही है। ऐसे में गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है।

Next Story
Share it