Top
undefined

अनलॉक हुआ भोपाल आरटीओ / आज से सिर्फ ऑनलाइन स्लॉट लेने वालों को ही एंट्री

भोपाल. भोपाल आरटीओ में आज से आम लोगों के लाइसेंस और गाड़ियों संबंधी काम शुरू हो गए हैं। पहले दिन ऑनलाइन टाइम लेने के बाद सिर्फ 4 से 5 लोग ही पहुंचे। आरटीओ संजय तिवारी ने बताया कि सिर्फ दोपहर 2 बजे तक ही यह कार्य किया जाएगा। लोगों के लिए जगज-जगह सैनिटाइजर लगाए गए हैं। इतना ही नहीं, भीड़ न लगे इसलिए अधिकारियों के कमरे से कुर्सियां भी हटा दी गई हैं। भोपाल रेड जोन में होने के कारण 22 मार्च से ही आम लोगों के लिए बंद था।

अब लाइलेंस के लिए आए कुल आवेदन में से 50 प्रतिशत के लाइसेंस ही बनाए जा रहे हैं। आवेदक को फॉर्म भरने से लेकर सभी तरह की फीस ऑनलाइन ही जमा करना है। परिवहन आयुक्त, ग्वालियर के आदेश जारी करने के बाद सोमवार से भोपाल में सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन के नियमों का पालन कराते हुए कार्य शुरू कर दिया गया है। नए ड्राइविंग लाइसेंस से लेकर उनके रिन्यूवल तक के कार्य होने लगे हैं।

वैद्यता खत्म हो चुके लोगों के लिए 30 सितंबर तक का समय

कोरोना के कारण अंतिम तारीख वाले सभी लाइसेंस और राजिस्ट्रेशन की वैद्यता तारीख 30 सितंबर की गई है। इस दौरान सिर्फ ऑनलाइन ही वाहनों के संबंधी कार्य किए गए। हालांकि नए और नवीनीकरण वाले कार्य बंद थे। प्रदेश में भोपाल और इंदौर के रेड जोन में होने के कारण यह बंद थे।

एक बार में अधिकतम 150 लोगों को समय दिया जा रहा

भोपाल आरटीओ में नवीन लाइसेंस बनने से लेकर उनके नवीनीकरण तक के रोजना करीब 300 लोगों को स्लॉट दिए जाते थे। नए आदेश में यह संख्या 50 प्रतिशत कर दी गई है। ऐसे में एक दिन में करीब 150 लोगों को ही समय दिए जा रहे हैं। सभी को कार्यालय में सिर्फ मास्क लगाकर आने पर ही एंट्री है। वर्तमान में एक बार में सिर्फ चार लोगों के लिए विंडो है।

लाइसेंस के लिए गाइडलाइन

सभी प्रकार के कायों के लिए सिर्फ ऑनलाइन फॉर्म ही कर सकते हैं।

टैक्स और फीस भी सिर्फ ऑनलाइन ही भरना होगा।

नए वाहनों के पंजीयन वीआईडी के माध्यम से ही भरे जा सकेंगे।

नए लाइसेंस के लिए सिर्फ 50 प्रतिशत स्लॉट निर्धारित किया गया।

वाहनों के फिटनेस के लिए 70 प्रतिशत स्लॉट रहेंगे।

Next Story
Share it