Top
undefined

शिवराज ने राहुल गांधी पर साधा निशाना,कहा- सेना के सर्वोच्च बलिदान पर सवाल करने वाले ऐसे नेता पर शर्म आती है

शिवराज ने राहुल गांधी पर साधा निशाना,कहा- सेना के सर्वोच्च बलिदान पर सवाल करने वाले ऐसे नेता पर शर्म आती है
X

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सेना के हौसले पर सवाल उठाने वाले राहुल जैसे नेता पर शर्म आती है। ऐसे लोग नेता कहलाने के लायक नहीं हैं। शिवराज मंगलवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

मुख्यमंत्री प्रदेश भाजपा कार्यालय में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि के कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि कश्मीर से धारा-370 समाप्त करना स्व. मुखर्जीजी का स्वप्न था, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरा हो सका है।

'सेना का मनोबल गिरा रहे राहुल'

मुख्यमंत्री ने कहा- एक तरफ हमारी सेना ने सर्वोच्च बलिदान करके भारत माता का माथा गर्व से ऊंचा किया है। दूसरी ओर ये कहते हुए शर्म आती है कि एक राष्ट्रीय पार्टी के पहले अध्यक्ष रहे राहुल गांधीजी उन्हें हतोत्साहित कर रहे हैं। वह सेना का अपमान कर रहे हैं। वह जिस तरह के कमेंट कर रहे हैं, ये कहते हुए लज्जा भी आती है और तकलीफ भी होती है। वह भारत के नागरिक हैं। सेना का मनोबल तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

सीमा पर तनाव होता है तो पूरा देश एकसाथ खड़ा होता है

मुख्यमंत्री ने कहा- "जब सीमाओं पर तनाव होता है तो पूरा देश एकसाथ उठकर खड़ा हो जाता है। जब-जब ऐसी परिस्थितियां देश में पहले कभी बनी हैं, भाजपा तब कांग्रेस के साथ खड़ी रहती थी। लेकिन, किस हद तक गिर गए हैं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष। ऐसे समय में भी उन्हें घटिया राजनीति याद आ रही है। हमला करना चाहिए चीन पर, लेकिन मोदीजी के अलावा उन्हें कोई और दिखाई नहीं देता है। क्या कहें ऐसे नेता को, ये कोई नेता कहलाने लायक नहीं हैं। हमारी सेना का अपमान देश बर्दाश्त नहीं करेगा।"

राहुल गांधी की दिनचर्या में है सेना की वीरता पर सवाल उठाना

चौहान ने आगे कहा कि शर्म आती है कि भारत में हमारे बीच राहुल गांधीजी जैसे नेता हैं, जिनकी दिनचर्या में सेना की वीरता पर सवाल उठाना शामिल है। ऐसे समय जब हम सभी को दलगत राजनीति को किनारे रखकर एकजुटता दिखानी चाहिए। वे देश के प्रधानमंत्री पर शाब्दिक हमले करते हैं।

Next Story
Share it