Top
undefined

पेट्रोल-डीजल पर घडिय़ाली आंसू न बहाए कांग्रेस: राहुल कोठारी

पेट्रोल-डीजल पर घडिय़ाली आंसू न बहाए कांग्रेस: राहुल कोठारी
X

स्वदेश संवाददाता भोपाल। पेट्रोल-डीजल की मूल्यवृद्धि पर कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन उसकी हताशा और दोगलेपन को प्रदर्शित करता है। वास्तव में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार अपने कार्यकाल में दो बार पेट्रोल-डीजल पर टैक्स बढ़ाकर प्रदेश की जनता से 1800 करोड़ की लूट कर चुकी है। ऐसे में कांग्रेस का यह आंदोलन घडिय़ालू आंसू बहाने से ज्यादा कुछ नहीं है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी ने पेट्रोल-डीजल मूल्यवृद्धि के खिलाफ कांग्रेस के आंदोलन पर आश्चर्य प्रकट करते हुए कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इस बात का जवाब देना चाहिए कि कांग्रेस शासित राजस्थान में डीजल देश में सबसे महंगा क्यों है। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी ने प्रदेश कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन को नौटंकी करार देते हुए कहा कि यह आंदोलन कांग्रेस में व्याप्त हताशा और उसके राजनीतिक दोगलेपन को ही प्रदर्शित करता है। श्री कोठारी ने कहा कि इस विरोध प्रदर्शन के जरिए कांग्रेस जनता की हमदर्द होने का ढोंग कर रही है। वास्तव में कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में पेट्रोल और डीजल की कीमतें कम करने का वादा किया था, लेकिन उसी कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने अपने कार्यकाल में दो बार पेट्रोल-डीजल पर टैक्स बढ़ाया था। कांग्रेस की सरकार ने गत वर्ष 6 जुलाई को डीजल और पेट्रोल पर 2 रूपये प्रति लीटर अतिरिक्त कर बढ़ाया था।

सत्ता संभालते ही दी राहत

जनता पर 1800 करोड़ का अनावश्यक आर्थिक बोझ डालने के बावजूद कमलनाथ सरकार विकास और जनसुविधा के हर काम के लिए पैसे की कमी का रोना रोती रही। श्री राहुल कोठारी ने कहा कि दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी की शिवराज सरकार सत्ता संभालने के साथ ही समाज के हर वर्ग को राहत पहुंचाने के काम में जुटी है। शिवराज सरकार ने कोरोना महामारी के नियंत्रण, पीडि़तों के उपचार एवं स्वास्थ्य सुविधाओं की व्यवस्थाओं पर पूरा ध्यान देते हुंए पीडि़तों को हरसंभव सहायता देने का काम किया है। समाज के गरीब तबके, विकलांगों, बुजुर्गों, महिलाओं, विद्यार्थियों से लेकर प्रवासी मजदूरों तक के लिए सहायता और राहत उपलब्ध कराई है।

Next Story
Share it