Top
undefined

कोरोना के हल्के, मध्यम लक्षणों वाले मरीजों की सेहत रहेगी दुरूस्त, खीर, पनीर के साथ मिलेंगे सूरजमुखी के बीज

कोरोना के हल्के, मध्यम लक्षणों वाले मरीजों की सेहत रहेगी दुरूस्त, खीर, पनीर के साथ मिलेंगे सूरजमुखी के बीज
X

भोपाल। कोरोना के बढते मरीजों के बीच स्वास्थ्य और पोषण विशेषज्ञों ने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को दुरूस्त रखना ही इससे निपटने का सबसे अ'छा जरिया बताया है। स्वास्थ्य आयुक्त ने अस्पतालों और कोविड केयर सेंटर्स में भर्ती होने वाले कोरोना के हल्के, मध्यम और लक्षण रहित मरीजों को विटामिन, ए,डी,ई, जिंक, विटामिन सी6,बी12, विटामिन सी के साथ ही प्रोटीन, एनर्जी, फैट और कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन उपलब्ध कराने के आदेश दिए हैं। आयुक्त ने सभी जिलों के कलेक्टर्स, सीएमएचओ, सिविल सर्जन और मेडिकल कॉलेजों के डीन को कोरोना मरीजों की आहार तालिका भेजी है। अब कोरोना के कम या मध्यम लक्षणों वाले मरीजों को जल्द ठीक करने के लिए उन्हें नाश्ते और खाने में काजू बादाम के साथ खीर और पनीर भी दिया जाएगा। इसके साथ ही मरीजों को इम्युनिटी बढ़ाने के लिए हल्दी का दूध और फ ल भी दिए जाएंगे। दरअसल, कोरेाना मरीजों को जल्द ठीक करने के लिए प्रतिदिन दो हजार कैलोरी युक्त भोजन की जररूत होती है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों में भतीज़् हल्के लक्षणों वाले मरीजों के लिए नाश्ते और भोजन के लिए डाइटचाटज़् लागू किया है। डाइट चाटज़् के मुताबिक अब मरीजों को खट्टे फ ल और क'चे सलाद नहीं दिए जाएंगे।

3 किलो गेंहू में 1 किलो बेसन के मिलाकर बनाई जाएंगी रोटियां

विभाग द्वारा जारी आहार तालिका के अनुसार मरीजों के लिए बनने वालीं रोटियों के लिए तीन किलो गेहूं के आटे में एक किलो बेसन मिलाना होगा। साथ ही ये कहा गया है कि आटा गूंथने के लिए संभव हो पानी की जगह दूध का इस्तेमाल किया जाए। यही नहीं बुजुर्ग मरीजों को रोटी की जगह खिचड़ी , दलिया के साथ खीर, कस्टर्ड या सेवईयां देने के लिए कहा गया है।

भोजन के बीच मिलेंगी भुनी मूंगफली, अलसी और सूरजमुखी के बीज

मरीजों भोजन के अंतराल में भुना चना, भुना मखाना, भुनी मूंगफली के साथ तिल अलसी और सूरज मुखी के बीज दिए जा सकते हैं। इसके साथ ही डायलिसिस के मरीजों के लिए खाने में दाल ना देकर दूध, दही या पनीर दिया जाएगा। तेल घी बढाने के साथ ही रोटी की जगह चावल देने और केला ना देने के लिए कहा गया है।

सामान्य लोग अपनी डेली डाइट में शामिल करें तो बेहतर होगी इम्युनिटी

गांधी मेडिकल कॉलेज के डॉ. राकेश मालवीय कहते हैं कि कोरोना वैसे तो आम सर्दी, जुकाम बुखार जैसा ही है लेकिन कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों के लिए ये खतरनाक है। सामान्य लोग भी कोरोना के एसिम्टोमेटिक पेशेंट्स जैसा डाइट चार्ट बना लें तो उनकी इम्युनिटी मजबूत होगी।

ये है आहार तालिका

सुबह 7.00 से 7.&0 बजे : एक कप चाय, मूंगफली/ भुना हुआ चना/ 4 बिस्किट

नाश्ता 8.00 बजे से 9.00 बजे : एक कप दूध, अंडा, पोहा / उपमा / दलिया / पराठे के साथ केला / फल

भोजन 12.&0 से 01.&0 बजे : रोटी / चावल के साथ तुअर दाल / छोले/ राजमा / साबुत दाल, सब्जी / रायता/ पनीर

नाश्ता 4.00 से 05.00 बजे : चाय, बिस्किट / अंकुरित मूंग

भोजन 7.00 से 8.00 बजे : रोटी / चावल के साथ सब्जी, बिना छिलके की दाल , कस्टर्ड, खीर / सेवइयां / पनीर

रोजाना के भोजन से मिलने चाहिए ये जरूरी तत्व

कैलोरी - 25 से &0 कैलोरी प्रति किलो शरीर भार

प्रोटीन - 1-1.2 ग्राम प्रति किलो शरीर भार

फैट - 25 - 30 फीसदी कुल कैलोरी के

कार्बोहाइडे्रट - 45 - 65 फीसदी कुल कैलोरी के

Next Story
Share it