Top
undefined

अब नए कलेवर में दिखाई देंगे भोपाल संभाग के आरोग्यम केन्द्र

अब नए कलेवर में दिखाई देंगे भोपाल संभाग के आरोग्यम केन्द्र
X

भोपाल। भोपाल संभाग के ग्रामीणों के लिए उपयोगी बनाने के लिए संभाग के सभी आरोग्यम केन्द्र अब नए कलेवर में शीघ्र दिखाई देंगे। भोपाल संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत ने सभी सीएमएचओ अमले से कहा कि वे अपने अमले के साथ सभी आरोग्यम केन्द्रों का भ्रमण कर सर्वसुविधा सम्पन्न, प्रशिक्षित अमले एवं सभी जरूरी दवाईयों के साथ ग्रामीणों को बेहतर सेवाएं दिलाई जाएं। उक्त निर्देश आरोग्यम केन्द्र की समीक्षा बैठक में दिए हैं। निर्देश देते हुए कहा कि इन चारों योजनाओं का निश्चित लक्ष्य नहीं होता इन योजनाओं के हितग्राहियों का आंकलन जनसंख्या एवं जन्मदर के आधार पर होता है। महिला एवं बाल विकास डोर टू डोर सर्वे कर सटीक आंकड़ें जुटाए ताकि कोई भी पात्र हितग्राही इन योजनाओं के लाभ से वंचित न रहे।

बेहतर सुविधा दें आरोग्य केन्द्र

श्री कियावत ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में आरोग्य केन्द्र वेलनेस सेंटर के रूप में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं दें। आरोग्य केन्द्र में सभी जरूरी उपकरण हों, दवाईयां हों, स्वास्थ्य विभाग का प्रशिक्षित अमला हो । सामान्य प्रसव की सभी सुविधाएं उपलब्ध हों ताकि छोटी-छोटी स्वास्थ्य समस्याओं के लिये ग्रामीणों को जिला या संभाग तक दौड़ ना लगाना पड़े। आरोग्य केन्द्र के व्यवस्थित संचालन में स्वास्थ्य, ग्राम और जनपद पंचायत तथा महिला एवं बाल विकास का अमला एकीकृत रूप से कारगर प्रयास करे।

कुपोषण के कलंक को मिटाएं

श्री कियावत ने कहा कि संभाग के सभी जिले कुपोषित बच्चों की संख्या कम होने पर भी इस समस्या को गंभीरता से लें। महिला एवं बाल विकास के अमले के साथ मिलकर स्वास्थ्य विभाग का अमला हर संभव प्रयास करें, ये प्रत्येक जिले में स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग की 100 संस्थाएं होंगी। सभी एकजुट होकर ठान लें, तो कुपोषण का कंलक जड़ से खत्म हो सकता है। कुपोषित बच्चों के अभिभावकों की काउंसिलिंग एवं समझाइश दें, उन्हें स्वास्थ्य दें, आंगनवाड़ी एवं स्वास्थ्य विभाग से मिलने वाली पोषण आहार व आर्थिक सुविधाओं की जानकारी दें तथा उनका लाभ देना भी सुनिश्चित करें।

Next Story
Share it