Top
undefined

मछली पकड़ने गए युवक को मगरमच्छ 200 मीटर खींचकर ले गया, शरीर में जगह-जगह दांतों के जख्म मिले

मछली पकड़ने गए युवक को मगरमच्छ 200 मीटर खींचकर ले गया, शरीर में जगह-जगह दांतों के जख्म मिले
X

भोपाल. राजधानी में एक बार फिर कलियासोत डैम में मगरमच्छ ने युवक पर हमला कर दिया। इस बार युवक की जान चली गई। बीते 14 दिन में मगरमच्छ ने दूसरी बार हमला किया है। गुरुवार को यह युवक मछली पकड़ने पानी में उतरा था। मगरमच्छ युवक को करीब 200 मीटर तक दूर तक खींचकर ले गया। शरीर पर 100 से ज्यादा जगहों पर दांत के जख्म मिले हैं।

चूनाभट्‌टी के चंदननगर निवासी 28 साल के प्रताप एक फार्म हाउस में नौकरी करते थे। उनके ममेरे भाई संजय ने पुलिस को बताया कि बुधवार रात करीब साढ़े 11 बजे वह मछली पकड़ने डैम के पास गए थे। प्रताप कपड़े उतारकर पानी में चला गया। थोड़ी देर बाद उसे मगरमच्छ खींचकर ले जाने लगा। काफी देर तक उसे पानी में यहां-वहां खोजता रहा, लेकिन प्रताप का कुछ पता नहीं चल रहा था। एक-दो बार वह पानी के ऊपर आया था। उसके बाद नजर नहीं आया। इधर, चूनाभट्‌टी थाना प्रभारी शिवराज सिंह ने बताया कि गुरुवार सुबह 6 बजे प्रताप के डूबने की सूचना मिली थी। एसडीआरफ की टीम भी मौके पर पहुंची। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद मौके से करीब 200 मीटर दूर पानी की तलहटी में प्रताप का शव मिला। उसके शरीर पर कई जगह मगरमच्छ के काटने के जख्म थे। कमर से नीचे पैर पर गंभीर घाव था। मगरमच्छ युवक को पैर से पकड़कर नीचे ले गया होगा।

8 जून: डैम में नहाने गए युवकों पर भी हमला हुआ था

इससे पहले कलियासोत डैम के किनारे पर नहाते वक्त 8 जून को दो दोस्तों पर एक मगरमच्छ ने हमला कर दिया था। अमित जाटव (28) दोपहर अपने दोस्त गजेंद्र (29) के साथ कलियासोत डैम नहाने पहुंचे थे। मगरमच्छ ने अमित का दायां पैर मुंह में भर लिया था। इस दौरान दूसरे साथी ने हिम्मत दिखाई और बाहर से डंडा लेकर आया और उसी के जरिए मगरमच्छ को मारना शुरू किया। आखिर में मगरमच्छ ने युवक का पैर छोड़ दिया था। हमले में अमित के पैर में जख्म हो गया था। घटना के पहले युवकों ने एक लकड़ी में अपना मोबाइल फोन वीडियो रिकॉर्डिंग मोड में करके बांध दिया था। हमले की पूरी घटना फोन में रिकॉर्ड हो गई थी।

20 जून: पुराने भदभदा पुल की सीढ़ियों पर मगरमच्छ मिला था

यहां पुराने भदभदा पुल की सीढ़ियों पर 20 जून को एक मगरमच्छ आ गया था। यहां तक कलियोत डैम का पानी आता है। बारिश के कारण उसके सूखी जगह की तलाश में यहां तक पहुंचने की आशंका जताई गई थी। पुल पर आए मगरमच्छ को देखने के लिए लोगों की भीड़ जमा हो गई थी। कमलानगर पुलिस की सूचना पर वन विभाग की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर पकड़ा था। इसके लिए 12 से ज्यादा लोगों की टीम लगाई गई थी।

Next Story
Share it