Top
undefined

रेल यातायात आज से शुरू, नयी दिल्ली से भोपाल के रास्ते गुजरेंगी 3 ट्रेन

केवल उसी यात्री को स्टेशन के अंदर प्रवेश दिया जाएगा जिसके पास आईआरसीटीसी का कंफर्म टिकट होगा। यात्रियों को ट्रेन पकडऩे के लिए 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा।यात्रियों को ब्लैंकेट और चादर खुद ही लाना होगा और मास्क पहनना होगा।

रेल यातायात आज से शुरू, नयी दिल्ली से भोपाल के रास्ते गुजरेंगी 3 ट्रेन
X

भोपाल। भारतीय रेल आज से फिर पटरी पर है। उससे पहले सोमवार को ऑनलाइन बुकिंग शुरू होने के कुछ मिनटों के भीतर ही सारे टिकट बुक हो गए। आईआरसीटीसी की साइट पर एकदम मारामारी मच गयी। मार्च से थमे बैठे यात्री अपने सफर पर निकलने के लिए तैयार हो गए।आज से नयी दिल्ली से शुरू हो रही ट्रेनों में से तीन भोपाल से होकर गुजरेंगी। रेलवे ने कोरोना से बचाव के लिए कई एहतियाती कदम उठाए हैं। इस एलान के साथ ही कि 12 मई से 15 स्पेशल ट्रेनें शुरू की जाएंगी टिकट बुक करने के लिए आईआरसीटीसी की साइट पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। पहले से तय वक्त 4:00 बजे बुकिंग किसी वजह से शुरू नहीं हो सकी और फिर जब शाम 6:00 बजे से आईआरसीटीसी की साइट पर टिकट बुक करने का सिलसिला शुरू हुआ तो कुछ मिनटों के अंदर ही पूरी ट्रेन फुल हो गई। रेलवे ने जिन 15 ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है उनमें से तीन ट्रेन भोपाल से होकर गुजरेंगी। रेलवे के नियमों के मुताबिक केवल वही यात्री ट्रेन में सफर कर सकेगा जिसके पास आईआरसीटीसी का ऑनलाइन कन्फर्म टिकट उपलब्ध रहेगा।

12-13 मई को 3 ट्रेन भोपाल से गुजरेंगी

12 मई से रेलवे ने जिन 15 ट्रेन को चलाने का फैसला किया है उनमें से 3 ट्रेन का स्टॉपेज 12 - 13 मई के दरम्यान भोपाल में होगा। पहली ट्रेन नई दिल्ली से शाम 4:00 बजे बिलासपुर के लिए रवाना होगी। यह ट्रेन रात 12:15 पर भोपाल पहुंचेगी। इस ट्रेन का भोपाल में 10 मिनट का स्टॉपेज रखा गया है।इसी तरह दूसरी ट्रेन नई दिल्ली से बेंगलुरु के लिए रात 9:15 पर रवाना होगी। जो अगले दिन यानी 13 मई को सुबह 5:00 बजे भोपाल जंक्शन पहुंचेगी। इस ट्रेन का भोपाल में 20 मिनट का स्टॉपेज है। 13 मई को एक ट्रेन नई दिल्ली से चेन्नई के लिए रवाना होगी इस ट्रेन का भी भोपाल में स्टॉपेज है।

यात्रा के नियम

रेलवे के तय नियमों के मुताबिक केवल उसी यात्री को स्टेशन के अंदर प्रवेश दिया जाएगा जिसके पास आईआरसीटीसी का कंफर्म टिकट होगा। यात्रियों को ट्रेन पकडऩे के लिए 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा। स्टेशन के गेट पर ही उनकी स्क्रीनिंग की जाएगी। अगर किसी यात्री में किसी भी तरह से कोरोना का लक्षण पाया जाता है तो फिर उसे यात्रा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। यात्रियों को सफर के दौरान अपना ब्लैंकेट और चादर खुद ही लाना होगा। सभी यात्रियों को ट्रेन में चढऩे और उतरने के दौरान हाथों को सैनिटाइज करना होगा। सभी को यात्रा के दौरान मास्क भी लगाना होगा।

Next Story
Share it