Top
undefined

भोपाल में एक आईएएस अफसर और 4 जमाती कोरोना पॉजिटिव मिले, इनमें 3 विदेशी

भोपाल में एक आईएएस अफसर और चार जमातियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें 3 जमाती म्यांमार और एक ओडिशा के भुवनेश्वर का है।

भोपाल में एक आईएएस अफसर और 4 जमाती कोरोना पॉजिटिव मिले, इनमें 3 विदेशी
X

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना के अब तक 120 संक्रमित मिले हैं। इनमें से 89 मामले सिर्फ इंदौर में हैं। भोपाल और इंदौर में संक्रमितों की संख्या बढ़ने से सरकार यहां लॉकडाउन की अवधि नए नियमों के साथ बढ़ा सकती है। शुक्रवार को भोपाल में एक आईएएस अफसर और चार जमातियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें 3 जमाती म्यांमार और एक ओडिशा के भुवनेश्वर का है। मुरैना में पति-पत्नी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर यहां कर्फ्यू लगा दिया गया है। ग्वालियर में मंगलवार रात 12 बजे से लागू किए टोटल लॉकडाउन को 4 अप्रैल तक बढ़ाया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संकेत दिए हैं कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ चल रही लड़ाई का विरोध करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इंदौर में मेडिकल टीम पर हमला करने वालों पर रासुका के तहत केस दर्ज होगा। प्रदेश में अब तक इंदौर 89, भोपाल 9, जबलपुर 8 उज्जैन 6, खरगोन 1, ग्वालियर, शिवपुरी, मुरैना, 2-2, छिंदवाड़ा में एक संक्रमित मिला। जबकि इंदौर 5, उज्जैन 2, खरगोन 1 की मौत हो चुकी है। भोपाल में गुरुवार को ऐशबाग की रहमानिया मस्जिद और श्यामल हिल्स की अहाता रुस्तम खां मस्जिद के एक किमी क्षेत्र को कैंटोनमेंट (कोविड-19 इन्फेक्टेड एरिया) घोषित कर दिया है। श्यामला हिल्स के कैंटोनमेंट दायरे में सीएम हाउस भी आता है। इसके आसपास का पूरा क्षेत्र प्रतिबंधित घोषित कर दिया है। हालांकि शहर में कोरोना पॉजिटिव के जो भी मामले मिले हैं वे पुराने शहर के ही हैं।

हेल्थ कॉर्पोरेशन के एमडी जे विजय कुमार संक्रमित

मध्य प्रदेश हेल्थ कॉर्पोरेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर और मध्य प्रदेश आयुष्मान भारत निरामयम सोसायटी के सीईओ जे विजय कुमार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि, इसकी पुष्टि करने के लिए दोबारा जांच कराई जा रही है। कुमार 2011 बैच के आईएएस अफसर हैं। मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, वे चार-पांच दिन पहले ही प्रदेश के बाहर यात्रा करके लौटे थे। वापस आकर उन्होंने चार्ज भी संभाल लिया था। हालांकि, बुधवार को उन्होंने काम से दूरी बना ली थी। उनके संपर्क में आए स्टाफ को भी क्वारैंटाइन होने के लिए कहा गया है।

शब-ए-बारात पर घर में ही इबादत करें: शहर काजी

भोपाल के काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने कहा है कि कोरोना के चलते लॉकडाउन का फैसला हमारी रक्षा के लिए है। मेरी बंदों से अपील है कि मस्जिदों के बदले जुमे की नमाज घर में ही अदा करें। मस्जिदों में सिर्फ इमाम-मुअज्जिन नमाज अदा करेंगे। आपात स्थिति में ही घर से बाहर निकलें। नदवी ने कहा- कुछ दिन बाद शब-ए-बारात है। इस दिन भी सभी बंदे घर में रहकर इबादत करें। उन्होंने कहा- अपने पूर्वजों की आत्मा को स्वर्ग में श्रेष्ठ स्थान मिले, इसके लिए भी घर में रहकर इबादत और दुआ करें। उन्होंने तब्लीगी जमात विषय पर स्पष्ट किया कि भोपाल में लॉकडाउन के चलते जितनी भी जमातें ठहरी हैं, उनकी सूचना प्रशासन को दे दी गई है।

Next Story
Share it