Top
undefined

मध्य प्रदेश में 8,526 कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पेंडिंग, कमलनाथ ने कहा-बढ़ सकता है खतरा

मध्य प्रदेश में 8,526 कोरोना सैंपल टेस्ट की रिपोर्ट पेंडिंग है। वहीं इंदौर के अस्पताल में करीब 100 से ज्यादा मरीज ठीक होकर घर जाने के इंतजार में इसलिए बैठे हैं कि उनकी टेस्ट की रिपोर्ट पेंडिंग है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि इससे कोरोना के संक्रमण का खतरा और बढ़ सकता है।

मध्य प्रदेश में 8,526 कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पेंडिंग, कमलनाथ ने कहा-बढ़ सकता है खतरा
X

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के लंबित सैंपल को लेकर चिंता जाहिर की है। कमलनाथ ने सरकार से लंबित सैंपल की तत्काल जांच करवा कर रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग की है। कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि प्रदेश में सैंपल के लंबित होने के मामले चिंता का विषय है और ऐसे में रिपोर्ट नहीं आने पर लोगों में संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ जाता है। कमलनाथ ने प्रदेश में सैंपल की जांच के लिए निजी लैब को अनुमति देने की मांग की है। उन्होंने यह आरोप लगाया है कि निजी अस्पताल कोरोना महामारी के दौरान मनमानी कर रहे हैं और इसपर लगाम कसने के लिए सरकार को जरूरी कदम उठाना चाहिए। मध्य प्रदेश में अभी 8,526 जांच की रिपोर्ट पेंडिंग है।

इंदौर में 2189 सैंपल जांच के लिए भेजे ही नहीं गए: जीतू पटवारी

वहीं पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने सीएम शिवराज को पत्र लिखकर लंबित सैंपल को लेकर चिंता जाहिर की है। जीतू पटवारी ने इस महामारी की विपदा में कांग्रेस का हाथ सरकार के साथ होने को बात कही है। जीतू पटवारी ने सीएम शिवराज को पत्र लिखकर कहा है कि मेरे संज्ञान में लाया गया है कि इंदौर में बीते कई दिनों से लगभग 2189 सेंपल जाँच के लिए भेजे ही नहीं गए हैं, जिन लोगों के सैंपल लिए गए हैं उनमें से कुछ लोग यैलो हॉस्पिटल में हैं और कुछ लोग अपने घरों पर हैं। अगर इनमें से कुछ लोग पॉजि़टिव होते हैं तो वे कई दूसरे लोगों के संपर्क में आकर संक्रमण फैला सकते हैं। जीतू पटवारी ने सरकार से टेस्टिंग पर ध्यान केंद्रित करने की मांग की है।

टेस्ट रिपोर्ट के इंतजार में हॉस्टिपल में 100 से ज्यादा फंसे

इंदौर में तकरीबन 100 से अधिक लोग जो ठीक होजीतू पटवारी ने सरकार से टेस्टिंग पर ध्यान केंद्रित करने की मांग की है चुके हैं उन्हें कई दिनों से सिफऱ् इसलिए हॉस्पिटल में रखा गया है क्योंकि उनके सेंपल की टेस्ट रिपोर्ट नहीं आई हैं ।

Next Story
Share it