Top
undefined

भोपाल के जहांगीराबाद में 24 घंटे में की 10000 की स्क्रीनिंग

भोपाल में अकेले जहांगीराबाद में एक ही दिन में 10 हजार की स्क्रीनिंग, एक हजार लाेगों के सैंपल लिए, आज दो हजार का टारगेट.

भोपाल के जहांगीराबाद में 24 घंटे में की 10000 की स्क्रीनिंग
X

भोपाल. जहांगीराबाद कंटेनमेंट एरिया में कोरोना के कारण अब तक तीन लोगों (एस जगन्नाथ, राजकुमार यादव व अशफाक) की जान जा चुकी है, जबकि चार पॉजिटिव हैं। इस इलाके में मंगलवार को शिविर लगाकर करीब एक हजार लोगों के सुआब सैंपल लिए गए। दिनभर में 10 हजार लोगों की स्क्रीनिंग की गई। तीनों मृतकों के संपर्क में आए 500 लोगों को शासकीय क्वारेंटाइन सेंटर में भेजने की तैयारी भी कर ली गई है। सैंपल दिल्ली भेजे जा रहे हैं, ताकि इनकी रिपोर्ट जल्द से जल्द आ सके। पुलिस, प्रशासन, नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग की इस पहल का यहां के रहवासियों ने ताली बजाकर स्वागत किया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बुघवार को 2000 सैंपल कलेक्ट करने का टारगेट रखा है।

इन चारों विभाग की 17 टीमों के 80 से ज्यादा सदस्यों ने इस क्षेत्र का हेल्थ सर्वे किया। एक किमी का दायरा पूरी तरह सील कर दिया गया। नगर निगम के 50 कर्मचारियों ने पूरे क्षेत्र को सैनिटाइज किया। सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि सुबह 11 बजे इलाके में पहुंची टीमों ने रहवासियों की इन्फ्रारेड थर्मल स्कैनर से बुखार की जांच की। सर्दी-जुकाम, बुखार, गले में खराश की शिकायत को लेकर उनसे सवाल किए गए।

हेल्थ सर्वे: पीपीई किट और उपकरणों के साथ पहुंची चार विभागों की टीम

स्क्रीनिंग व अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए कलेक्टर तरुण पिथोड़े, नगर निगम कमिश्नर के साथ कंटेनमेंट एरिया में पहुंचे। भोपाल के सभी कंटेनमेंट एरिया के प्रोटोकॉल की जिम्मेदारी आईपीएस पंकज कुमावत को सौंपी गई है। एएसपी क्राइम निश्चल झारिया उनकी मदद करेंगे। जहांगीराबाद कंटेनमेंट जोन का प्रभारी एएसपी आशीष खरे को बनाया गया है।

मंगलवार को जहांगीराबाद इलाके में घर-घर जाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। इसके बाद संदिग्ध मरीज के सैंपल लिए।

सैंपल लेते-लेते रात हो गई तो... जीएमसी परिसर में डाॅक्टराें ने गाड़ियाें की हेडलाइट जलाकर किया काम

काेराेना की जांच के लिए मंगलवार काे हमीदिया और सुल्तानिया अस्पताल के डाॅक्टर, जूनियर डाॅक्टर, एडमिनिस्ट्रेटिव स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ, सफाईकर्मी और गार्ड समेत 300 से ज्यादा लाेगाें के सैंपल लिए गए। सैंपल कलेक्शन के लिए गांधी मेडिकल काॅलेज के ऑडिटाेरियम के पास अलग काउंटर लगाया गया था। शाम करीब 4 बजे शुरू हुई सैंपलिंग रात आठ बजे तक चली। इस दाैरान जब यहां लाइट कम हुई ताे डाॅक्टराें ने अपनी गाड़ियाें काे लाइन से खड़ा किया और उनकी हेडलाइट ऑन कर उजाला कर दिया।

स्वास्थ्य विभाग की टीम देर रात सैंपल लेकर हमीदिया अस्पताल पहुंची। यहां गाड़ियों की लाइट में इनकी नंबरिंग और पैकिंग की गई। सैंपल को आज जांच के लिए दिल्ली भेजा जाएगा।

13 ड्रोन कैमरों से नजर दर्ज हुए 19 केस

लॉकडाउन उल्लंघन रोकने के लिए कंटेनमेंट एरिया में भीड़ नियंत्रण के मकसद से 13 ड्रोन कैमरों से नजर रखी जा रही है। इन कैमरों की मदद से पुलिस ने मंगलवार तक 19 केस दर्ज किए हैं। भोपाल पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग की मदद से 650 पुलिसकर्मियों को पीपीई किट दी है। ये किट कंटेनमेंट एरिया में तैनात कर्मियों को दी हैं।

Next Story
Share it