Top
undefined

भोपाल में आज से शुरू होगी कोरोना से हो रहे मौत की ऑडिट प्रक्रिया, कलेक्टर ने दिए आदेश

भोपाल में कोविड-19 (Covid-19) से हुई सभी मृतकों की मौत का ऑडिट कम्युनिटी और फैसिलिटी के स्तर पर किया जाएगा ताकि ये पता लगाया जा सके की सिस्टम में कहीं कोई कमी के चलते तो मौत नहीं हुई है.

भोपाल में आज से शुरू होगी कोरोना से हो रहे मौत की ऑडिट प्रक्रिया, कलेक्टर ने दिए आदेश
X

भोपाल। मध्य प्रदेश का भोपाल जिला प्रशासन अब कोरोना के कारण हो रही मौत को लेकर भी अलर्ट मोड पर है. इसके लिए कलेक्टर तरूण पिथौड़े ने तीन विशेषज्ञों की टीम गठित की है जो मृतकों की मौत का ऑडिट करेगी. भोपाल में कोविड-19 से हुई सभी मृतकों की मौत का ऑडिट कम्युनिटी और फैसिलिटी के स्तर पर किया जाएगा ताकि ये पता लगाया जा सके की सिस्टम में कहीं कोई कमी के चलते तो मौत नहीं हुई है. अगर इस दौरान कोई कमी सामने आती है तो उसमें तत्काल सुधार किया जाएगा.

कम्युनिटी और फैसिलिटी स्तर पर होगा ऑडिट

कम्युनिटी स्तर पर टीम ये पता लगा सकेगी कि मरीज की ट्रैवल हिस्ट्री क्या थी. उसके घर में कितने लोग थे और क्या वे पॉजिटिव थे या नहीं? मरीज़ की डिज़ीज़ हिस्ट्री क्या रही थी यानी उसमें पहले कौन-कौन सी बीमारी थी? मरीज को कोरोना वायरस का संक्रमण कैसे हुआ? वहीं फैसिलिटी स्तर पर इस बात का पता चल पाएगा कि मरीज को अस्पताल में सभी तरह की सुविधाएं मुहैया हो सकीं या नहीं? इसके लिए टीम मरीज के परिवार वालों से बात करेगी साथ ही हॉस्पिटल मैनेजमेंट से भी फीडबैक लिया जाएगा.

आज से ऑडिट शुरू, हफ्ते भर के अंदर देनी होगी रिपोर्ट

जिला प्रशासन का कहना है कि गैस पीड़ित संगठनों ने शिकायत की थी कि भोपाल में होने वाली मौत ज्यादातर उन लोगों की है जो गैस त्रासदी के शिकार हैं.ऑडिट से कमियों का पता चल सकेगा और सिस्टम दुरुस्त करने के लिए कदम उठाया जाएगा. कलेक्टर के निर्देशानुसार जो टीम गठित की गई है, उसमें गांधी मेडिकल कॉलेज के पीएसएम विभाग के अध्यक्ष डॉ डीके पाल, मेडिसिन विभाग के फैकल्टी डॉक्टर के देवपुजारी और डब्ल्यूएचओ के कंसल्टेंट डॉक्टर एस एम जोशी शामिल है.गठित की गई टीम को आज से काम शुरू करने के आदेश दिए गए है.काम शुरू होने के एक हफ्ते के अंदर टीम को अपनी रिपोर्ट सरकार को सौपनी होगी.

Next Story
Share it