Top
undefined

मध्यप्रदेश के सरकारी ऑफिस खुले, पीसी शर्मा बोले, यह जल्दबाज़ी में उठाया कदम है इसके परिणाम बुरे हो सकते हैं

मध्य प्रदेश के सरकारी दफ्तरों में दोबारा काम की शुरुआत हो चुकी है, कार्यालयों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी किया जा रहा है.

मध्यप्रदेश के सरकारी ऑफिस खुले, पीसी शर्मा बोले, यह जल्दबाज़ी में उठाया कदम है इसके परिणाम बुरे हो सकते हैं
X


भोपाल। मध्य प्रदेश के सरकारी दफ्तरों में चरणबद्ध तरीके से आज से काम शुरू हो गया है. भोपाल स्थित मंत्रालय वल्लभ भवन, संचालनालय सतपूडा और विंध्याचल में बुलाए गए तीस प्रतिशत कर्मचारी आए. दफ्तरों में सैनिटाइजर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है.

हालांकि कांग्रेस सरकार के पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने इस फैसले पर आपत्ति जतायी. पीसी शर्मा ने कहा कि ये जल्दबाजी में उठाया गया कदम है. इसके परिणाम अच्छे नहीं होंगे. दरअसल बुधवार को सरकार ने फैसला किया था कि 30 अप्रैल से मंत्रालय और अन्य राज्य-स्तरीय विभागाध्यक्ष कार्यालयों में चरणबद्ध रूप से कार्य प्रारंभ किया जायेगा. सरकार द्वारा 15 अप्रैल को केन्द्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी परिपत्र के अनुक्रम में निर्णय लिया है.

सरकारी आदेश में कहा गया था कि कार्यालय आने वाले समस्त अधिकारी और कर्मचारी कार्य स्थलों पर सोशल डिस्टेंसिंग के मापदण्डों का कड़ाई से पालन करेंगे. अपने निवास स्थान से कार्यालय में आवागमन और कार्य के दौरान समस्त शासकीय सेवकों को पूरे समय मास्क पहनना, सैनिटाइजर का उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा. इसका असर देखा गया.

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की ओर से जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप प्रत्येक कार्यालय को नियमित रूप से सैनिटाइज किया जायेगा. कार्यालय के प्रत्येक कक्ष में आवश्यकतानुसार सैनिटाइजर आदि आवश्यक सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी.

Next Story
Share it