Top
undefined

भोपाल, इंदौर में कड़ाई जारी, मध्य प्रदेश के 26 जिलों को मिलेगी लॉकडाउन से राहत

कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन है और आज से कुछ हद तक छूट देने का ऐलान किया गया है. मध्य प्रदेश में भी तीन प्रमुख जिलों को छोड़कर अधिकतर क्षेत्रों में चिन्हित छूट दी गई है.

भोपाल, इंदौर में कड़ाई जारी, मध्य प्रदेश के 26 जिलों को मिलेगी लॉकडाउन से राहत
X


भोपाल। देश में लागू लॉकडाउन में सोमवार से कुछ हदतक छूट दी जा रही हैं. केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी गाइडलाइन्स के मुताबिक राज्य सरकारें जमीनी स्थिति को देखते हुए ये छूट दे रही हैं. मध्य प्रदेश में 26 जिले ऐसे हैं, जहां पर ये छूट दी जाएगी. लेकिन भोपाल, इंदौर और उज्जैन जैसे बड़े शहरों में किसी तरह की राहत नहीं मिलेगी.

राज्य सरकार की ओर से मध्य प्रदेश के सभी जिलों को तीन कैटेगरी में बांटने का फैसला लिया गया है. इनमें केस और कोरोना के संकट के आधार पर छूट देने की बात कही गई है.

पहली कैटेगरी में भोपाल, उज्जैन और इंदौर जैसे शहर शामिल हैं जहां किसी तरह की छूट नहीं मिलेगी. क्योंकि इनमें अभी काफी ज्यादा कोरोना के केस हैं.

दूसरी कैटेगरी में वो जिले शामिल हैं, जिनके किसी कस्बे या थाना क्षेत्र में कोरोना वायरस का मामला है. इन जिलों में जहां कोरोना का केस है, वो क्षेत्र बंद रहेगा लेकिन बाकी हिस्से में छूट की इजाजत होगी.

तीसरी कैटेगरी में वो जिले आते हैं, जहां पर कोरोना वायरस का खतरा ना के बराबर है. लेकिन इन इलाकों में भी सरकारी अफसरों और चिन्हित औद्योगिक गतिविधियों को इजाजत दी गई है.

कैटेगरी के आधार पर छूट के अलावा अभी भी कई सर्विस ऐसी हैं, जो पूरे प्रदेश में बंद ही रहेंगी. स्कूल, कॉलेज, मॉल, सिनेमा हॉल अभी भी बंद ही रहेंगे. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में जानकारी दी कि राज्य के 15 लाख किसानों के लिए 2200 करोड़ रुपये के इश्योंरेस की व्यवस्था की जाएगी.

इसके अलावा राज्य में कुछ हदतक निर्माण कार्य, मनरेगा का कामकाज भी शुरू कर दिया जाएगा. आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, राज्य में अबतक 1400 से अधिक कोरोना वायरस के केस सामने आए हैं जबकि 70 लोगों की जान जा चुकी है.

Next Story
Share it