Top
undefined

इंदौर में कोरोना के 5 मरीज़ निकले पॉजिटिव, जिला कलेक्टर ने कहा : पैनिक होने की ज़रुरत नहीं

इंदौर में कोरोना के 5 मरीज़ पॉजिटिव मिलने से पूरे शहर में दहशत का माहौल बना है. वहीं जिला कलेक्टर का बयान सामने आया है, जिसमें उनका कहना है कि पैनिक होने की ज़रूरत नहीं है, मरीज़ो का इलाज़ अस्पताल में चल रहा है.

इंदौर में कोरोना के 5 मरीज़ निकले पॉजिटिव, जिला कलेक्टर ने कहा : पैनिक होने की ज़रुरत नहीं
X

इंदौर / कोरोना का कहर पूरे देश में सर चढ़कर बोल रहा है. वहीं मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में एक साथ कोरोना (COVID 19) के 5 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. इन सभी मरीजों की उम्र 49 से 68 वर्ष के बीच है. इंदौर के 13 सैंपल और आसपास के जिलों के 8 सैंपल जांच के लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज के लैब भेजे गए थे. इनमें से 5 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इनमें से दो मरीजों की हालात ज्यादा गंभीर बताई जा रही है.

इंदौर शहर में 5 लोगों में कोरोना के वायरस मिले हैं. जांच में इनके नमूने पॉजिटिव मिले हैं. बुधवार सुबह चार बजे इसकी पुष्टि हुई है. इनमें से तीन मरीज बॉम्बे अस्पताल, एक अरिहंत अस्पताल और एक एमवाय अस्पताल में भर्ती हैं. दो मरीज एक ही परिवार के हैं. ये लोग ऋषिकेश घूमने गए थे. आशंका है ये लोग वहीं संक्रमित हुए. पांच मरीज़ों में से एक रानीपुरा और एक चंदन नगर क्षेत्र का रहने वाला है, जबकि महिला उज्जैन की है. बॉम्बे अस्पताल में एक ही परिवार के दो लोग भर्ती हैं. संक्रमित लोगों में से 4 की कोई फॉरेन हिस्ट्री नहीं है. विभाग पता कर रहा है कि ये किसके संपर्क में आए थे.

बुजु़र्ग हैं सभी मरीज़

इंदौर के चार मरीजों में से एक 68 साल और दूसरे 66 वर्ष के पुरुष हैं, जबकि तीसरी महिला 49 साल की हैं. दोनों पुरुष एक ही परिवार के हैं. इनका बॉम्बे हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है. वहीं, इंदौर के चंदन नगर की रहने वाली 50 साल की महिला का इलाज अरिहंत हॉस्पिटल में चल रहा है, जबकि उज्जैन निवासी महिला का इलाज एमवाय अस्पताल में किया जा रहा है. बॉम्बे हॉस्पिटल में भर्ती तीन मरीजों में से दो की हालात ज्यादा गंभीर बताई जा रही है. मरीजों का पता चलते ही स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है सीएमएचओ लगातार ड़ॉक्टरों से संपर्क में हैं.

कलेक्टर बोले- पैनिक होने की ज़रूरत नहीं

इंदौर कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने कहा है कि इस बात को लेकर पैनिक होने की आवश्यकता नहीं है. सभी मरीजों की हालत स्थिर है और वे चिकित्सीय निगरानी में हैं. सभी का बेहतर इलाज हो रहा है. संक्रमण फैले नहीं इसके पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. कलेक्टर जाटव ने यह भी कहा है कि प्रशासन आम जनता को जरूरी सामान घर पर ही उपलब्ध कराने के लिए ठोस उपाय कर रहा है. जरूरी सामान घर पर उपलब्ध कराने के लिए ऑनलाइन स्टोर्स, वेंडर और विक्रेताओं के डिटेल्स जल्द जारी किए जाएंगे, ताकि ऑनलाइन ऑर्डर कर घर पर ही आवश्यक वस्तुएं मिल सकें.

Next Story
Share it
Top