Top
undefined

संस्कृत विवि का दीक्षांत समारोह 31दिसंबर को, 125 विद्यार्थी पाएंगे डिग्री और मेडल

संस्कृत विवि का दीक्षांत समारोह 31दिसंबर को, 125 विद्यार्थी पाएंगे डिग्री और मेडल
X

उज्जैन। महर्षि पाणिनि संस्कृत एवं वैदिक विश्वविद्यालय का दूसरा दीक्षांत समारोह 31 दिसंबर को होगा। इसमें प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव के हाथों विवि के 125 विद्यार्थी डिग्री और 36 होनहार विद्यार्थी मेडल पाएंगे। समारोह देवास रोड स्थित विवि परिसर में होगा। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। विभागाध्यक्ष डॉ. तुलसीदास परोहा ने बताया कि मुख्य अतिथि राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सारस्वत अतिथि सोमनाथ संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. गोपबंधु मिश्र ऑननलाइन जुड़ेंगे। विशेष अतिथि के रूप में प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया और विधायक पारस जैन उपस्थित होंगे।

ड्रेस कोड भी रखा

विवि के 625 विद्यार्थियों को डिग्री मिलना है, पर समारोह में डिग्री प्राप्त करने को अब तक 125 विद्यार्थियों ने 200-200 र्स्पये शुल्क जमा कर पंजीयन कराया है। इनमें 9 विद्यार्थी पीएचडी किए और 36 वे मेरिट होल्डर है, जिन्हें स्वर्ण, रजत, कांस्य पदक प्रदान किया जाएगा। शेष स्नातकोत्तर परीक्षा उत्तीर्ण विद्यार्थी हैं। समारोह में कोविड-19 नियमों का पालन किया जाएगा। ड्रेस कोड छात्रों के लिए सफेद कुर्ता-फायजामा, केसरिया उत्तरीय है। छात्राओं के लिए ड्रेस कोर्ड गुलाबी साड़ी है। दीक्षांत समारोह से दो दिन पहले विवि की एक छात्रा ने समारोह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। नाम ललिता ठाकुर है, जिन्होंने इस वर्ष एमए योग की परीक्षा उत्तीर्ण की है। उनका आरोप है कि विवि ने गलत मूल्यांकन किया है। एक ऐसी छात्रा का टॉपर बनाकर, चयन स्वर्ण पदक देने को किया है, जिसे ठीक से पद्मासन भी नहीं आता। पूरे मामले में विभागाध्यक्ष डॉ. तुससीदास परोहा और कुलपति प्रो. पंकज लक्ष्‌मण जानी ने कहा है कि छात्रा की शिकायत का समाधान कराने को पुनर्मूल्यांकन कराया था। मूल्यांकन सही पाया गया है। छात्रा के आरोप गलत और निराधार हैं।

Next Story
Share it