Top
undefined
Breaking

चारू बोलीं 'शक का कोई इलाज नहीं होता', जानें कैसे शकी मिजाज करता है रिश्ते को तबाह

चारू बोलीं शक का कोई इलाज नहीं होता, जानें कैसे शकी मिजाज करता है रिश्ते को तबाह

शादी एक ऐसा रिश्ता है जिसे मजबूत बनाने के लिए दोनों भागीदारों को समान रूप से कड़ी मेहनत करनी होती है। एक सुखी वैवाहिक जीवन के लिए निस्वार्थ भाव की जरूरत होती है। लेकिन दुर्भाग्य से, रिश्तों में अक्सर निस्वार्थता की अनदेखी की जाती है। लोग अक्सर सोचते हैं कि अपने स्वभाव के लिए किसी खुशी का पीछा करना स्वार्थ है लेकिन एक शादीशुदा रिश्ते में खुशियों की खोज स्वार्थी नहीं हो सकती। शादीशुदा रिश्ते में पति-पत्नी को ही एक-दूसरे के इमोशन्स, फीलिंग्स का ख्याल रखना होता।

हम सब इस बात को अच्छे से जानते हैं कि किसी भी शादीशुदा रिश्ते की नींव पति-पत्नी की ईमानदारी, प्यार और आपसी समझ पर टिकी होती है। ऐसे में किसी एक का भी फरेबी होना एक खुशहाल रिश्ते की जड़ को हमेशा-हमेशा के लिए खत्म कर देता है। जी हां, बेवफाई एक रिश्ते में आने वाली सबसे चुनौतीपूर्ण समस्याओं में से एक है। कहीं आपका पति गे तो नहीं ? इन 5 तरीकों से चल सकता है पता

जब कोई व्यक्ति अपने जीवनसाथी या साथी के अलावा किसी अन्य व्यक्ति के साथ किसी रिश्ते में शामिल हो जाता है, तो उसे एक संबंध माना जाता है। कभी-कभार अफेयर में शारीरिक अंतरंगता (जिस्मानी संबंध) शामिल हो भी सकते हैं और नहीं भी, लेकिन इस तरह के संबंधों को अक्सर पति एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के रूप में नहीं मानते।

वह अक्सर इस तरह की बेवफाई को लेकर अपनी सफाई पेश करने लगते हैं और अपनी पत्नी को इस बात का विश्वास भी दिला देते हैं कि उनका ऐसा-वैसा कोई चक्कर नहीं चल रहा। हालांकि, आपको यह जानकर हैरानी होगी कि ऐसे 5 प्रकार के मामले हैं जिनमें अक्सर शादीशुदा मर्द शामिल होते हैं।

भावात्मक संबंध

आम तौर पर इस तरह के संबंधों में कोई शारीरिक अंतरंगता नहीं होती है। यह पूरी तरह से भावनात्मक अंतरंगता पर निर्भर होते हैं। लेकिन अन्य की तुलना में इस तरह के संबंध बहुत अधिक हानिकारक होते है। इस तरह के अफेयर के चलते पति का अपनी पत्नी के प्रति प्यार या मन से जुड़ाव धीरे-धीरे खत्म होने लगता है। वह एक-दूसरे के साथ शारीरिक रूप से पहले जैसे संबंध नहीं बना पाते।

शारीरिक संबंध

अपनी शादीशुदा जिंदगी से खुश न होकर अक्सर मर्द इस तरह की कैज़ुअल बॉन्डिंग में शामिल हो जाते हैं और अक्सर अवैध संबंधों के रोमांच का आनंद लेते हैं। यही संबंध सबसे ज्यादा घर तोड़ने वाले रिश्तों में से एक होते हैं।

दूसरी महिला के प्रेम में

अपनी शादी में किसी तरह का सुख न मिल पाने के कारण अक्सर पति भावनात्मक और शारीरिक अंतरंगता के लिए किसी दूसरी महिला के प्यार में पड़ने लगते हैं। वह इसे अपनी असफल शादी से बाहर निकलने का एकमात्र तरीका मानते हैं। ऐसे पुरुष कभी भी अपनी पत्नी से भावनात्मक लगाव नहीं रखते।

एक तरफा प्यार

लोग अक्सर इस तरह के रिश्ते में तब शामिल होते हैं जब उन्हें किसी के साथ उठना-बैठना अच्छा लगने लगता है। हालांकि, ऐसे मर्द कभी भी अपने प्यार का खुलकर जिक्र नहीं कर पाते और न ही अपनी पत्नी को छोड़ने के बारे में सोचते हैं। वे अपनी मौजूदा बॉन्डिंग में ही खुश रहते हैं। ...तो इस कारण सैफ को छोड़ अमृता के साथ रहती हैं सारा अली खान, इन बातों से हर माता-पिता लें सबक

मुश्किल समय में साथ

जीवन में कुछ बदलावों के बाद इस तरह के प्रेम संबंध शुरू होते हैं, जैसे कि उसकी मां या करीबी दोस्त की मौत, स्वास्थ्य संकट, नौकरी का छूट जाना। इस समय वह चारों तरफ सुख की तलाश करते हैं। ऐसे में जब उन्हें कोई खुश रखने वाली फीमेल पार्टनरमिल जाती है तो वह अक्सर इस तरह के प्यार में पड़ जाते हैं।

Next Story
Share it
Top