Top
undefined
Breaking

रागेश्वरी लूम्बा की लव स्टोरी बताती है अरेंज्ड मैरेज में भी होता है कितना प्यार

रागेश्वरी लूम्बा की लव स्टोरी बताती है अरेंज्ड मैरेज में भी होता है कितना प्यार

रागेश्वरी लूम्बा ने बेहद छोटी उम्र में एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में पांव जमा लिए थे। पहली ऐल्बम की बंपर सक्सेस से लेकर चेहरे के एक हिस्से का परैलिटिक होना और खुद को इस स्थिति से उबारने वाली इस सिंगर व ऐक्टर की लाइफ स्टोरी कई उतार-चढ़ाव से भरी रही है। हालांकि, अब रागेश्वरी हैपी मैरिड लाइफ जी रही हैं। उनकी लव स्टोरी कुछ ऐसी है, जिसे जानने के बाद शायद आपका भी अरेंज्ड मैरेज में विश्वास जाग उठेगा। इतना ही नहीं आप इस स्टोरी से काफी कुछ सीख भी सकती हैं।

रागेश्वरी सिंगल रहकर ही खुश थीं, लेकिन वह शादी और मां बनने के सुख को भी महसूस करना चाहती थीं। इस वजह से उन्होंने अपने पैरंट्स को लड़का ढूंढने की जिम्मेदारी दी। उनके लिए सुधांशु स्वरूप को चुना गया, जो लंदन में ह्यूमन राइट्स वकील हैं। दोनों के बीच महज दो साल का अंतर है। रागेश्वरी ने बताया था कि वह शादी से पहले अपने साथी को अच्छे से जान लेना चाहती थीं, इसलिए उन्होंने सुधांशु के सामने ईमेल के जरिए बातें करने का प्रस्ताव रखा जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया।

आज के दौर की लड़कियां भी अपनी इंडिपेंडेंट सिंगल लाइफ में खुश हैं, लेकिन रागेश्वरी की तरह ही उन्हें एक बार रिश्ते को चांस जरूर देना चाहिए। बात जब अरेंज्ड मैरेज की हो, तो उसमें जल्दबाजी न करें और सिंगर की तरह पहले एक-दूसरे को बातों के जरिए समझने की कोशिश करें।

स्काइप और फिर मुलाकात

रागेश्वरी और सुधांशु ने किसी भी तरह की जल्दबाजी नहीं दिखाई और ईमेल के बाद स्काइप व उसके बाद मिलने का दौर शुरू किया। सिंगर ने बताया था कि कैसे उनके पति बार-बार लंदन से उनके पास मिलने आते थे, जो उनके डेडिकेशन और प्यार को दिखाता था। इन दोनों ने एक-दूसरे को समझने के लिए करीब 4 साल का समय दिया।

इस ग्रैजुअल अप्रोच को दूसरे कपल्स को भी फॉलो करना चाहिए, तभी वे एक-दूसरे को बेहतर तरीके से समझ पाते हैं। अरेंज्ड मैरेज में अगर आपसी समझ के बगैर शादी कर ली जाए, तो बाद में परेशानी खड़ी हो सकती है।

शादी में भी रखा दोनों की पसंद का ख्याल

ऐक्ट्रेस ने एक इंटरव्यू में बताया था कि शादी की तैयारी की पूरी जिम्मेदारी उन पर ही थी, क्योंकि सुधांशु लंदन में थे। हालांकि, बावजूद इसके वे बार-बार चीजों को लेकर उनसे सलाह जरूर लेती थीं। इस कारण शादी ऐसी बन पाई, जिसे दूल्हा और दुल्हन व उनके दोस्त-रिश्तेदार इंजॉय कर सके।

40 की उम्र में बनीं मां

रागेश्वरी ने पहले तो 38 की उम्र में शादी की और फिर 40 की उम्र में बिना किसी ट्रीटमेंट के उन्होंने बेटी को जन्म दिया। ऐक्ट्रेस ने एक इंटरव्यू में जाहिर किया था कि 'अब मुझे पता चला मैं इतने साल सिंगल क्यों थी और क्यों मैंने शादी के लिए वेट किया?' उन्होंने सुधांशु को अपना 'मिस्टर राइट' बताया था और 40 की उम्र में मां बनने के एक्सपीरियंस को उन लोगों के लिए जवाब बताया था, जो हमेशा लड़कियों पर शादी और प्रेग्नेंसी की सही उम्र को लेकर दबाव डालते हैं।

अगर आप मानसिक रूप से तैयार हैं, तो ही शादी जैसे बड़े फैसले को लेकर आगे बढ़ना चाहिए। कई कपल्स जोश-जोश में शादी तो कर लेते हैं, लेकिन जिम्मेदारियों के साथ आने वाले दबाव को वे सहन नहीं कर पाते, जिससे प्यार का रिश्ता कड़वाहट में तब्दील हो जाता है। बेहतर है कि आप भी तब इस रिश्ते को गले लगाएं, जब आपको लगे कि आप सारी जिम्मेदारी के लिए रेडी हैं।

खुशहाल जिंदगी जी रहीं रागेश्वरी

रागेश्वरी शादी के बाद कितनी खुश हैं, इसकी झलक उनकी तस्वीरों में साफ देखने को मिलता है। इंस्टाग्राम पोस्ट्स में वह हमेशा ही हंसती और मुस्कुराती देखी जाती हैं, जो उनकी खुशी को जाहिर करता है।

Next Story
Share it
Top