Top
undefined

उत्तरप्रदेश के रामपुर में कोरोना कर्मवीर की जबरन सेनेटाइजर पिलाकर हत्या

उत्तरप्रदेश के रामपुर में कोरोना कर्मवीर की जबरन सेनेटाइजर पिलाकर हत्या
X

रामपुर. उत्तर प्रदेश के रामपुर में सेनेटाइजेशन करने गए एक युवक की कथित तौर पर सेनेटाइजर पिलाकर हत्या कर दी गई। रामपुर के मोतीपुरा गांव में कोरोना के खतरे के बीच सेनेटाइजेशन करने गए युवक का स्थानीय लोगों से कुछ विवाद हो गए, जिसके बाद कुछ दबंगों ने उसे कथित तौर पर जबरन सेनेटाइजर पिला दिया।

पुलिस ने एक ही गांव के पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। एएसपी अरुण कुमार ने कहा, 'मृतक के भाई ने हमें घटना के बारे में सूचना दी। उसने आरोप लगाया है कि जब मृतक 14 अप्रैल को मोतीपुरा गांव में सेनेटाइजेशन करने गया था, तो कुछ बदमाशों ने उसे पीटा था। स्थानीय लोगों ने युवक को रामपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां से डॉक्टरों ने रेफर कर दिया। फिर उसे मुरादाबाद जिले के टीएमयू अस्पताल में भर्ती कराया गया। 17 अप्रैल को उसकी मृत्यु हो गई।'

5 के खिलाफ एफआईआर दर्ज

अरुण ने बताया, 'हमने इस संबंध में मोतीपुरा गांव के 5 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। शव का पोस्टमॉर्टम किया जाना अभी बाकी है। हम जांच के बाद सबूतों के आधार पर कार्रवाई करेंगे।' मृतक के भाई हरिशंकर का आरोप है कि पांच लोगों ने उसके भाई के मुंह में जबरन सेनेटाइजर स्प्रे डाला था।

आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

हरिशंकर ने कहा, 'मेरा भाई 14 अप्रैल को रामपुर में कोविड-19 के मद्देनजर सेनेटाइजर का छिड़काव करने गया था। वहां पर पांच लोगों ने उसे पीटा और उसके मुंह में जबरन स्प्रे किया। स्थानीय लोग उसे अस्पताल ले गए। मैं अस्पताल भी पहुंचा। तब उसे मुरादाबाद के टीएमयू अस्पताल रेफर किया गया। वहां 17 अप्रैल को उसकी मौत हो गई।' पुलिस ने मामले में इस मामले में आईपीसी की धारा 304 (गैरइरादतन हत्या), 147 और 323 के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम बनाकर कार्रवाई कर रही है। शनिवार देर रात भी पुलिस ने दबिश दी थी।

Next Story
Share it
Top