Top
undefined

प्रवासी मजदूरों की लॉकडाउन में हुई दुर्दशा को लेकर मराठी व गैर मराठी का मुद्दा गरमाया

प्रवासी मजदूरों की लॉकडाउन में हुई दुर्दशा को लेकर मराठी व गैर मराठी का मुद्दा गरमाया
X

मुंबई . यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा प्रवासी मजदूरों पर किए गए एक फैसले पर राजनीति शुरू हो गई है। देश में यूपी के मजदूरों की घर वापसी और लॉकडाउन में हुई दुर्दशा को देखते हुए योगी सरकार ने कहा है कि किसी भी राज्य को अब यूपी के मजदूरों की सेवा लेने से पहले यूपी सरकार से इसकी इजाजत लेनी होगी। यूपी सरकार के इस निर्णय के बाद अब महाराष्ट्र में एक बार फिर मराठी और गैर मराठी राजनीति का दौर शुरू होने लगा है।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के चीफ राज ठाकरे ने कहा है कि अगर योगी आदित्यनाथ ने ऐसा नियम बनाया है तो अब हम भी यह कहना चाहते हैं कि किसी भी मजदूर को महाराष्ट्र आने से पहले अब हमारी सरकार, पुलिस और प्रशासन से अनुमति लेना अनिवार्य होगा। ऐसा ना करने पर किसी को महाराष्ट्र में एंट्री नहीं मिलेगी।

महाराष्ट्र में आने वालों को भी लेनी होगी इजाजत

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अगर किसी को यूपी के मजदूरों की सेवाएं चाहिए तो उसे यहां की सरकार से अप्रूवल लेना जरूरी होगा। अगर ऐसा है तो अब महाराष्ट्र में घुसने वाले किसी भी मजदूर को भी हमसे, हमारी सरकार से और हमारी पुलिस से अनुमति लेनी होगी। योगी आदित्यनाथ को इसका ध्यान रखना चाहिए।

'थाने में जमा करानी होगी डिटेल्स'

इसके साथ ही महाराष्ट्र सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए। भविष्य में अगर कोई भी प्रवासी हमारे राज्य में आता है तो उसे भी अपनी डिटेल्स, आईडी प्रूफ आदि को थाने में जमा करना होगा। जब यह कार्रवाई पूरी हो जाएगी, तो उसके बाद ही किसी मजदूर को महाराष्ट्र में एंट्री दी जाएगी। इस नियम को महाराष्ट्र को सख्ती से पालन भी कराना चाहिए।

योगी सरकार ने बनाया है नियम

इससे पहले योगी ने कहा कि कोई भी राज्य सरकार बिना अनुमति के उत्तर प्रदेश के लोगों को श्रमिक व कामगार के रूप में लेकर नहीं जाएगी।'' मुख्यमंत्री ने कहा,'' जिस प्रकार से लॉकाडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों और कामगारों की दुर्गति हुई और उनके साथ जिस प्रकार का दुर्व्यवहार हुआ, उसको देखते हुए प्रदेश सरकार उनकी सामाजिक सुरक्षा की गारंटी अपने हाथों में लेने जा रही है।'' योगी ने कहा कि प्रवासी कामगार उत्तर प्रदेश के अलावा देश और दुनिया में जहां कहीं भी जाएगा प्रदेश सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी।

Next Story
Share it
Top