Top
undefined

एक ही परिवार के चार लोगों की गला रेतकर हत्या, एक की हालत नाजुक

एक ही परिवार के चार लोगों की गला रेतकर हत्या, एक की हालत नाजुक
X

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश में प्रयागराज के होलागढ़ थाना क्षेत्र के देवापुर गांव में गुरुवार रात एक ही परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या कर दी गई। एक महिला गंभीर रूप से घायल है। सूचना पाकर कई थाने की फोर्स मौके पर पहुंच गई। घायल महिला को अस्पताल भर्ती कराया गया। हालांकि अभी हत्या की वजह साफ नहीं हो सकी है। शुक्रवार की सुबह घटना की जानकारी होने पर पुलिस भी पहुंची। शवों को कब्जे में लेने के बाद गंभीर रूप से घायल महिला को अस्पताल भेजा गया है। पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं। पुलिस अब जांच-पड़ताल और पूछताछ के साथ ही वारदात साक्ष्य जुटा रही है।

पुलिस के साथ ही फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट और डॉग स्क्वायड भी जांच में लगा है। तहकीकात की जा रही है। पुलिस अधिकारी परिवार के सदस्यों के साथ ही आसपास के ग्रामीणों से भी पूछताछ कर रही है। फिलहाल हत्यारे पुलिस की पकड़ से दूर ही हैं।

पेशे से वैद्य थे विमलेश पांडेय

होलागढ़ थाना क्षेत्र के देवापुर गांव में 40 वर्षीय विमलेश पांडे वैद्य थे। गांव में ही वह मरीजों को दवा देते थे। इसी से परिवार की रोजी-रोटी चलती थी। उनके परिवार के लोग गुरुवार की रात में खाना खाने के बाद सो रहे थे। रात में किसी समय बदमाश घर में घुस गए। बदमाशों ने घर के सभी सदस्यों को बंधक बनाने के बाद हत्या की वारदात को अंजाम दिया। बदमाशों ने विमलेश पांडे के साथ ही उनकी पुत्री सोमू 22, पुत्र शीबू 19 और प्रिंस 18 की हत्या कर दी। विमलेश पांडेय की पत्नी गंभीर रूप से घायल हैं।

सामूहिक हत्या कांड का थम नही रहा सिलसिला

संगम नगरी में सामूहिक हत्याकांड का दौर थमने का नाम नही ले रहा है। लॉकडाउन की समयावधि में सामूहिक हत्याकांड की ये चौथी घटना है। इससे पहले मार्च महीने में नवाबगंज से सटे सोरांव इलाके में दम्पत्ति, उनके बेटे और पिता की घर के अंदर हत्या कर दी गई थी। फिर अप्रैल में मेजा में एक दम्पत्ति और उसकी बेटी की रात में सोते समय हत्या हो गई थी। इसके बाद 14 मई को शहर के धूमनगंज थानान्तर्गत प्रीतमनगर में सामूहिक हत्याकांड से सनसनी फैल गई थी। एक परिवार के चार लोगों की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मृतक आपस में पति,पत्नी, बहू और बेटी थे।

Next Story
Share it
Top